[gtranslate]
Country

मोदी ने कहा, बंगाल में होगा ‘आशोल पोरिबोरतोन’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानि कि 7 मार्च रविवार को कोलकाता के ब्रिगेड मैदान में रैली की। रैली में प्रगतिशील बांग्ला और शोनार बांग्ला के नारे के साथ पीएम ने अपने भाषण की शुरुआत की।

इस रैली से ठीक पहले बीजेपी में शामिल हुए अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती ने भी मोदी के साथ मंच साझा किया।

क्या है ‘आशोल पोरिबोरतोन’ के मायने?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाषण में ‘आशोल पोरिबोरतोन’ की बात की और कहा, “आशोल पोरिबोरतोन मतलब, ऐसा बंगाल जहां गरीब से गरीब को भी आगे बढ़ने का पूरा अवसर मिले। आशोल पोरिबोरतोन मतलब, ऐसा बंगाल जहां हर क्षेत्र, हर वर्ग की विकास में बराबर की भागीदारी होगी।

इसके बाद मोदी ने बंगाल की मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल ने परिवर्तन के लिए ही ममता दीदी पर भरोसा किया था लेकिन उन्होंने भरोसा तोड़ दिया और “बंगाल को अपमानित किया।”

मोदी ने यह भी कहा कि कमल के फूल में बंगाल की मिट्टी की खुशबू है इसलिए ही कहा जा रहा है , लोकसभा में टीएमसी हाफ़ और इस बार पूरी साफ। उन्होंने कहा कि, “कोलकाता तो सिटी ऑफ जॉय है।कोलकाता के पास समृद्ध अतीत की विरासत भी है और भविष्य की संभावनाएं भी हैं।ऐसा कोई कारण नहीं है कि कोलकाता के कल्चर को सुरक्षित रखते हुए इसे सिटी ऑफ फ्यूचर (भविष्य का शहर) नहीं बनाया जा सके।”

पीएम ने पश्चिम बंगाल में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विस्तार को लेकर भी बात की।उन्होंने कहा, इंजीनियरिंग, डॉक्टर, टेक्नॉलॉजी, ऐसे विषयों की पढ़ाई, बांग्ला भाषा में भी हो, इस पर भी जोर दिया जाएगा।

You may also like

MERA DDDD DDD DD