[gtranslate]
Country

मायावती ने भाजपा के सिर फोड़ा भारत बंद का ठीकरा 

नई दिल्ली। एससी/एसटी एक्ट पर राजनीति गरमाने लगी है।  बसपा सुप्रीमो मायावती ने सवर्ण संगठनों द्वारा 6 सितंबर को आयोजित भारत बंद का ठीकरा भारतीय जनता पार्टी के सिर फोड़ा है। एससी/एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में बुलाए गए भारत बंद बंद को मायावती ने भाजपा का ‘पॉलिटिकल स्टंट’ करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा को लग गया है कि उसका जनाधार सिमट रहा है। लिहाजा अब वह चुनाव से पहले पर्दे के पीछे से जातियों को बांटने का खेल कर रही है।
बसपा प्रमुख ने सवाल उठाया कि आखिर एससी/एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध सिर्फ बीजेपी शासित राज्यों में क्यों हो रहा है। जाहिर है कि चुनाव नजदीक आने पर भाजपा जातिगत तनाव फैलाने की कोशिश कर रही है। मायावती ने कहा कि बसपा  अकेले एससी/एसटी के लोगों की पार्टी नहीं है, बल्कि एससी/एसटी, पिछड़ा, सवर्ण और अल्पसंख्यकों की पार्टी है। उन्होंने यह भी याद दिलाया कि उनकी सरकार में ही पहली बार सवर्णों को आर्थिक रूप से आरक्षण देने की मांग उठाई गई थी। उनकी सरकार में किसी के साथ अन्याय नहीं हुआ और न ही एससी/एसटी एक्ट का दुरुपयोग हुआ।
बसपा प्रमुख ने मायावती ने नोटबंदी और जीएसटी जैसे मसलों को लेकर भी केंद्र सरकार पर हमला करते किया कि सरकार की नीतियों से आम लोग परेशान हो रहे हैं। बिना किसी तैयारी के नोटबंदी और जीएसटी लागू कर केंद्र सरकार ने लोगों को बर्बाद कर दिया है। बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा कि जो लोग एससी/एसटी अधिनियम के खिलाफ विरोध- प्रदर्शन कर रहे हैं वे बिल्कुल गलत हैं। वे भाजपा के कारण गुमराह हो रहे हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD