Country

महागठबन्धन का चुनावी शंखनाद

यूपी की 80 सीटों के साथ ही पूरे देश में भाजपा के खिलाफ जंग के लिए पूरी तरह से तैयार हो चुकी सपा-बसपा अपनी पहली संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस करने जा रहे हैं। ये प्रेस वार्ता कल यानी 12 जनवरी को राजधानी लखनऊ के ताज होटल में आयोजित होनी है। स्पष्ट है कि इस प्रेस वार्ता में यूपी की 80 लोकसभा सीटों के साथ ही देश की समस्त लोकसभा सीटों पर बंटवारे की तस्वीर स्पष्ट हो जायेगी। बात यदि यूपी की 80 लोकसभा सीटों की करें तो सपा-बसपा ने अनौपचारिक रूप से 37-37 सीटों पर चुनाव लड़ने पर सहमति जता दी थी। स्पष्ट है कि यदि कोई अन्य दल भाजपा के खिलाफ इस कथित महागठबन्धन में शामिल होता है तो उसे कितनी सीटें मिल पायेंगी? यह संशय अभी तक बना हुआ है लेकिन उम्मीद जतायी जा रही है कि यह संशय भी कल की प्रेस वार्ता में दूर हो जायेगा।
इस प्रेस वार्ता का आयोजन सपा-बसपा ने अपने-अपने पार्टी कार्यालय में करने के बजाए होटल में किए जाने को लेकर कहा जा रहा है कि दोनों दलों के बीच हुई सहमति इतनी मजबूत है कि दोनों ही दल किसी प्रकार का विवाद न तो अपनी पार्टी के भीतर देखना चाहते हैं और न ही विरोधी दलों को कोई ऐसा मौका देना चाहते हैं जिसका लाभ वे पार्टी पदाधिकारियों को बरगलाने के लिए कर सकें। ऐसा इसलिए भी ताकि दोनों की दल का कोई भी कार्यकर्ता अथवा पदाधिकारी यह न कह सके कि फलां पार्टी ने अपनी अहमियत जताने की गरज सके प्रेस वार्ता का आयोजन अपने कार्यालय में किया।
कल होने वाली इस प्रेस वार्ता में यह भी साफ हो जायेगा कि भाजपा के विरुद्ध बने इस महागठबन्धन मंे कौन-कौन दल शामिल हैं और किन शर्तों पर। इस महागठबन्धन में शामिल होने वाले राष्ट्रीय लोकदल को इस प्रेस वार्ता से काफी उम्मीदे हैं।
आज एक पत्रकार वार्ता के दौरान राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) के मुखिया अजित सिंह ने कहा है कि ‘हम महागठबंधन के हिस्सा हैं लेकिन उन्हें कितनी सीटें दी जायेंगी अभी तक महागठबन्धन के दोनों प्रमुख दलों की तरफ से कोई फैसला नहीं लिया गया है।’ कहा जा रहा है कि भाजपा के खिलाफ महागठबन्धन की अगुवाई करने वाले दोनों दल (सपा-बसपा) कल की प्रेस वार्ता में कांग्रेस की भूमिका पर भी कोई न कोई फैसला ले सकते हैं। बताते चलें कि सपा-बसपा गठबन्धन की यह संयुक्त प्रेस वार्ता लगभग 24 वर्षों बाद पुनः होने जा रही है इससे पूर्व दोनों दलों की यह प्रेस वार्ता पूर्व सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव और बसपा प्रमुख मायावती के साथ हो चुकी है। बताते चलें कि सपा-बसपा गठबंधन 2 जून 1995 में टूटा था। वही वह समय था जब सपा नेताओं द्वारा स्टेट गेस्ट हाउस में मायावती पर जानलेवा हमला किया गया था। इसके बाद दोनों दल कभी एक साथ नजर नहीं आए लेकिन अब यूपी में दोनों दल एक होते हुए दिखाई दे रहे हैं। इसका ज्यादातर श्रेय सपा प्रमुख अखिलेश यादव को दिया जा रहा है। कहा जा रहा है कि पार्टी की कमान संभालने के बाद से अखिलेश के समक्ष पार्टी को खड़ा करने की चुनौती थी, यही वजह है कि अखिलेश यादव बिना किसी झिझक के बसपा प्रमुख मायावती से लगातार तब तक मुलाकात करते रहे जब तक उन्होंने बसपा प्रमुख मायावती को मना नहीं लिया। गौरतलब है कि लोकसभा के उपचुनाव में ये दोनों दलों गठबन्धन का कमाल दिखा चुके हैं। उम्मीद जतायी जा रही है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में भी यह गठबन्धन खासतौर से यूपी में अपनी अहमियत से परिचय करवा देगा। इतना ही नहीं यदि यह महागठबन्धन बिना किसी बाधा के लोकसभा चुनाव-2019 की दहलीज पार कर जाता है और कोई कमाल दिखा जाता है तो निश्चित तौर पर नयी सरकार के गठन में इस महागठबन्धन की विशेष भूमिका होगी।
18 Comments
  1. cartas del tarot 5 months ago
    Reply

    Good post. I study one thing more challenging on totally different blogs everyday. It is going to always be stimulating to learn content from different writers and practice somewhat something from their store. I’d choose to make use of some with the content on my weblog whether or not you don’t mind. Natually I’ll provide you with a hyperlink in your internet blog. Thanks for sharing.

  2. Coralie Cabellero 2 months ago
    Reply

    hi!,I like your writing so much! proportion we keep in touch extra approximately your post on AOL? I need an expert on this house to solve my problem. Maybe that’s you! Taking a look forward to see you.

  3. Hi there! I just would like to give you a huge thumbs up for the great info you
    have got here on this post. I’ll be coming back to your website for more
    soon.

  4. Jonna Wightman 1 month ago
    Reply

    A powerful share, I just given this onto a colleague who was doing somewhat evaluation on this. And he actually bought me breakfast because I found it for him.. smile. So let me reword that: Thnx for the treat! However yeah Thnkx for spending the time to discuss this, I really feel strongly about it and love reading extra on this topic. If doable, as you become experience, would you thoughts updating your weblog with more particulars? It’s highly useful for me. Big thumb up for this blog put up!

  5. g 1 month ago
    Reply

    Asking questions are in fact good thing if you are not understanding anything totally, but this paragraph presents nice understanding even.

  6. g 1 month ago
    Reply

    Hello i am kavin, its my first time to commenting anywhere,
    when i read this article i thought i could also make comment due to this
    brilliant article.

  7. Hi there every one, here every one is sharing such knowledge, thus it’s nice to read this website, and I used to
    visit this webpage everyday.

  8. Tien 3 weeks ago
    Reply

    Good day! This is my first visit to your blog! We are a group of volunteers and starting a new project in a community in the same niche. Your blog provided us useful information to work on. You have done a extraordinary job!

  9. It’s not my first time to go to see this website, i am visiting this web site dailly and obtain nice information from here everyday.

  10. Yes! Finally someone writes about gamefly free trial.

  11. Royal 2 weeks ago
    Reply

    Hello my loved one! I wish to say that this post is awesome, nice written and include almost all significant infos. I would like to see extra posts like this .

  12. What’s up, I log on to your new stuff regularly. Your
    humoristic style is awesome, keep it up!

  13. Hello, i read your blog occasionally and
    i own a similar one and i was just wondering if you get a
    lot of spam feedback? If so how do you reduce it, any plugin or anything you can recommend?
    I get so much lately it’s driving me mad so any support
    is very much appreciated.

  14. You actually make it seem so easy with your presentation but I find this topic to be actually
    something which I think I would never understand. It seems too complex and very
    broad for me. I am looking forward for your next post, I’ll
    try to get the hang of it!

  15. Hi this is kind of of off topic but I was wondering if blogs
    use WYSIWYG editors or if you have to manually code with
    HTML. I’m starting a blog soon but have no
    coding expertise so I wanted to get guidance from someone with
    experience. Any help would be greatly appreciated!

  16. If some one desires to be updated with latest technologies after that he must be pay a quick visit this site and be up to date every day.

  17. Oh my goodness! Impressive article dude! Thanks, However I am going
    through issues with your RSS. I don’t know the reason why I cannot join it.
    Is there anybody having the same RSS issues?
    Anyone who knows the solution will you kindly respond?
    Thanks!!

  18. I’m impressed, I have to admit. Really rarely can i encounter a weblog that’s both educative and entertaining, and let me tell you, you could have hit the nail on the head. Your thought is outstanding; the thing is an element that not enough people are speaking intelligently about. My business is very happy which i found this in my find some thing concerning this.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like