[gtranslate]
Country

मजदूरों से केजरीवाल की अपील, जहां हैं वहीं रहें हम आपका रेंट दे देंगे

प्रवासी मजदूरों से केजरीवाल की अपील, जहां हैं वहीं रहें हम आपका रेंट दे देंगे

कोरोना वायरस का खतरा देखते हुए पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन लगा है। इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दिल्लीवासियों को घर में रहने और भगवत गीता के 18 अध्याय पढ़ने की सलाह दिया है। अभी लॉकडाउन में 15 दिन बाकी है। कल रविवार को 34 के नए संक्रमण के केस सामने आए। अब दिल्ली में इसी के साथ संक्रमण के 56 मामले हो गए।

दरअसल, फरवरी में हुए दिल्ली विधानसभा में अरविंद केजरीवाल ने हनुमान चालीसा पढ़कर बोला था कि मैं सब से अधिक सच्चा हनुमान भक्त हूँ। उसके बाद उन्होंने बीजेपी पर बहुत सारे सवाल खड़े किए थे। विधानसभा के नतीजे आने के बाद अरविंद केजरीवाल मनीष सिसोदिया जैसे सभी नेता के साथ कनॉट प्लेस के एक हनुमान मंदिर गए थे। 28 मार्च से महाभारत ओर रामायण दूरदर्शन पर प्रशारण शुरू किया गया है। कई सारे कैबिनेट मंत्रियो ने सोशल मीडिया पर रामायण देखते हुए उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर साझा किया था।

इसी बीच कोरोना का संक्रमण फैलते ही जा रहा है। इसमें सभी प्रवासी कामगार और दिहाड़ी मजदूर घर जाने के लिए आनन्द विहार बस स्टैंड पर सैकड़ों की संख्या में आ गए थे। इसी को देखते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने अब एक घोषणा की है। उन्होंने सबसे पहले घर न जाने के लिए अपील की है। उन्होंने कहा है कि सरकार उनके घरों का किराया देगी। सीएम ने आगे कहा कि आप जहां हैं वहीं रहें, साथ ही उन्होंने मकान मालिकों से किराया देने का दबाव न बनाने की अपील की। केजरीवाल ने कहा कि यदि किराएदार अपना किराया एक या दो महीनों तक देने में सक्षम नहीं हैं तो सरकार उनकी तरफ से किराए का भुगतान करेगी।

गृह मंत्रालय ने भी सभी राज्यों ओर केंद्र सरकार के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि वे दूसरे राज्यों के लोगों जो कि अन्य राज्यों में रह रहे हैं, उनकी आवश्यक वस्तुओं की अबाध आपूर्ति सुनिश्चित करें ताकि ऐसे लोग जहां हैं, वहीं बने रहें। मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता ने परामर्श जारी होने की जानकारी दी थी। इसमें कहा गया था कि वे प्रवासी कृषि मजदूरों, उद्योगों में लगे कामगारों और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के बड़े पैमाने पर हो रहे पलायन को रोकें। जिससे कोरोना वायरस से संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके।

You may also like

MERA DDDD DDD DD