[gtranslate]
Country

हीलिंग से कोरोना मरीजों को गुड फीलिंग करा रहा कर्म योग मेडिटेशन क्लब

कोरोना महामारी के इस भयंकर दौर में एक सराहनीय पहल कर्म योग मैडिटेशन क्लब की तरफ से की जा रही है। क्लब ने अपनी दूरदर्शिता को दिखाते हुए कोरोना महामारी के इस भय से लोगों को निजात दिलाने का प्रण किया । फेसबुक लाइव शेशन और जूम एप से लोगों में बैठें बीमारी के भय को दूर करने के लिए आनलाइन योग, ध्यान हीलिंग के माध्यम से निजात दिलाना शुरू कर दिया। देखते ही देखते काफी संख्या में लोग जुड़ने लगे।

कर्म योग मैडिटेशन क्लब की डायरेक्टर आशा बंसल से कर्म योग मैडिटेशन क्लब व उनके द्वारा चलाए गए अभियान के बारे में जाना तो पता चला कि इस विधा से मैडिकल साइंस के साथ महामारी से निजात पा सकते हैं।

आशा बंसल ने बताया कि योग का शाब्दिक अर्थ है, जोड़ना। अनंत से जुड़ने की प्रक्रिया।
अनंत क्या है? संसार की वह सर्वशक्तिमान शक्ति जो पूरे ब्रह्माण्ड को संचालित करती है। अर्थात उससे जुड़ने को योग कहा जाता है। जब हम पूर्णतः एकाग्र हो ध्यान मुद्रा में उस सर्वशक्तिमान में विलीन हो जाते हैं, वही योग की स्थिति है।

आशा बंसल से हीलिंग के बारे में पूछा तो उनका जवाब एक तरह से चौकाने जैसा था। उन्होंने बताया कि हम प्राण उर्जा द्वारा हर बीमारी को ठीक कर सकते हैं । चाहे कोई असाध्य बीमारी ही क्यों न हो। उन्होंने हीलिंग के बारे मे कहा कि हीलिंग को सर्वप्रथम हमारे देश में महात्मा बुद्ध ने अपने योग ध्यान व तपोबल से इजाद किया। उन्होंने अपने अनुयायियों को हीलिंग की प्रैक्टिस कराना प्रारंभ किया । यह चिकित्सा पद्धति जो पूर्णतः स्व प्राण आधारित थी, इस प्रक्रिया से गुजारा। इससे यह।बात सामने आई है कि मनुष्य दवाई के बगैर भी स्वास्थ्य हो सकता है।

महात्मा बुद्ध के बाद जापान स्थित एक महान वैज्ञानिक सन 1920 ई. में मिकाओ यू सूई ने अपने विशेष शोध अथवा ज्ञान के बाद इस चिकित्सा पद्धति का नाम रेकी दिया। तब से पूरी दुनिया में चिकित्सा जगत में यह चमत्कारी सिद्ध हो रही है।

आशा बंसल ने हीलिंग को विस्तार देते हुए बताया कि यह चिकित्सा के अलावा हमारी जीवन दिनचर्या में भी इसका बड़ा योगदान है। उन्होंने एक और बड़ी हस्ती का हवाला देते हुए बताया कि क्रांतिकारी योगी व दार्शनिक अरविंदो घोष क्रांतिकारी जीवन के उपरांत अपने तमाम क्रांतिकारी साथियों व अन्य लोगों को निरंतर हीलिंग भेजते थे। वह इस चिकित्सा पद्धति से घायल लोगों का इलाज भी करते थे।यह बहुत ही चमत्कारी चिकित्सा पद्धति है।

वह कहती है कि आज कर्म योग मैडिटेशन क्लब व हमारी टीम पूरी मुस्तैदी से कोरोना महामारी के रोगियों को मानसिक दबाव से बाहर निकालने का कार्य कर रहे हैं। इसी के साथ हमारी टीम जूम एप पर फ्री आनलाइन मीटिंग के जरिये भी मरीजों को ठीक कर रहे हैं। वह दावा करती है कि हमारे संपर्क में आए ज्यादातर मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। हम प्रतिदिन शाम 6 बजे यह आयोजन आनलाइन कर रहे हैं।

उनके अनुसार हमें सबसे बड़ी खूशी इस बात की है कि हमारे प्रयास से लोग कामयाब हो रहे हैं। लोग इस महामारी की दहशत से बाहर निकल रहे हैं और स्वास्थ्य हो रहे हैं।

कर्म योग मैडिटेशन क्लब की मुख्य टीम के सदस्य एवं हाईकोर्ट दिल्ली में कार्यरत  यशवीर भाटी ने बताया कि क्लब के सभी सदस्य अपने सभी निजी कार्य को ताख पर रखकर दिन रात हीलिंग के जरिए कोरोना मरीजों को अपने क्लब के माध्यम से हीलिंग से ठीक कर रहे हैं। उन्होंने कर्म योग मैडिटेशन क्लब की डायरेक्टर आशा बंसल की प्रशंसा करते हुए बताया कि अपने परिवार की जिम्मेदारी निभाते हुए एक महिला के लिए बड़ा ही सराहनीय कदम है।

यशवीर भाटी ने बताया कि हमें  मेडिकल साइंस के साथ साथ योग, ध्यान व हीलिंग को प्रमुखता से अपनाना चाहिए। भाटी के अनुसार हीलिंग से कोरोना समेत और भी बीमारी पूर्णतः ठीक हो रही हैं। हीलिंग प्रक्रिया न केवल शरीर व अंगों पर कार्य करती है बल्कि अंगों समेत सभी सैल्यूलर लेवल से टिश्यू तक जाती है और मरीज धीरे धीरे मानसिक और शारीरिक रूप से ठीक हो जाता है।

कैमराला निवासी सतेंद्र भाटी एक ऐसे ही कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं, जो हीलिंग के जरिए अब अपने आप को फिट महसूस कर रहे हैं। सतेंद्र भाटी कहते हैं कि जब उनको कोरोना हुआ तो वह बिल्कुल घबरा गए थे । उनको लग रहा था कि उनका फेफड़ा खराब हो गया तथा गला जकड़ दिया गया है। वह बताते हैं कि उन्हें इतनी घबराहट होने लगी थी कि कभी-कभी दिल में भी दर्द हो जाता था। लगता था कि अब वह बहुत कम समय ही जी पाएंगे।

लेकिन ऐसे समय में यशवीर भाटी ने उन्हें इस गफलत से बाहर निकाला। सतेंद्र भाटी बताते हैं कि यशवीर भाटी ने उन्हें हीलिंग की गुड फीलिंग कराई। उन्हें जूम ऐप पर हीलिंग करना सिखाया। इसी के साथ ही दिल में बैठे बीमारी के डर को भी बाहर निकाला। भाटी के अनुसार आशा बंसल ने भी उनको रोजाना जूम एप पर वीडियो कॉलिंग के जरिए हीलिंग करना सिखाया। जिससे वह मानसिक रूप से मजबूत हुए और बीमारी से बाहर निकले।

You may also like

MERA DDDD DDD DD