[gtranslate]
Country

दिल्‍ली में पटाखों पर बैन को लेकर केजरीवाल पर भड़के कपिल मिश्रा

देश की राजधानी दिल्ली में दिवाली से ठीक पहले ही पटाखों पर बैन लगा दिया गया है लेकिन इससे पटाखा व्यापारी बेहद नाराज हैं। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए सीएम अरविन्द केजरीवाल ने 7 नवंबर से ही पटाखों की बिक्री और आतिशबाजी पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया है। लेकिन अब इस फैसले पर भी सियासत गरमाने लगी है।

दरअसल बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली में पटाखे बैन को लेकर अरविन्द केजरीवाल पर निशाना साधा। उन्होंने ट्विटर के जरिए सीएम केजरीवाल से सवाल पूछा कि अब तक उनकी सरकार की ओर से प्रदूषण कम करने के लिए क्या-क्या कदम उठाए गए हैं। कपिल मिश्रा द्वारा अरविंद केजरीवाल से सवाल किया गया कि ‘क्या हर साल दिवाली पर पटाखों को बैन करना उचित है’?

उन्होंने आगे कहा कि आज तो दिल्ली में पटाखे नहीं जलाए जा रहे हैं तो फिर आज क्यों प्रदूषण का स्तर बहुत ख़राब है। करवा चौथ वाले दिन भी चाँद को देखने के लिए लोगों को एक-एक घंटे तक संघर्ष सा करना पड़ा क्योंकि प्रदूषण का स्तर गंभीर था, जबकि तब तो पटाखे नहीं जलाए जा रहे थे। उन्होंने कहा, ‘हर साल का यही तमाशा है कि दिवाली पर तो पटाखों पर प्रतिबंध लगा देते हैं और पूरे साल कोई प्रतिबंध नहीं और पटाखों से कोई अलग प्रदूषण होता है इसकी कोई रिपोर्ट भी नहीं है।

क्या अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, जापान इन देशो को नहीं पता कि प्रदूषण को कम कैसे किया जाना चाहिए। यहाँ भी पटाखे जलते हैं। मिश्रा ने तीखे प्रहार करते हुए कहा कि मुझे लगता है कि सरकार को हिंदू धर्म के त्योहारों पर बैन लगाना आता है। क्या कभी सरकार इस पर ऑर्डर दे सकती है कि ईद कैसे मनाई जाएगी और क्रिसमस कैसे मनाई जाएगी, लेकिन दिवाली कैसे मनाई जाएगी यह ऑर्डर देने में सरकार को बड़ा मजा आता है। दीवाली पर पटाखे बंद करो। होली पर पानी कम करें। जन्माष्टमी पर दही हांडी का मज़ाक बनाना शुरू कर दो। दुनिया के किसी भी देश में कोई भी सरकार या अदालत यह आदेश नहीं देती कि त्योहार कैसे मनाया जाए। गौरतलब है कि दिल्ली समेत कई अन्य राज्य में भी पटाखों पर बैन लगा दिया गया है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD