[gtranslate]
Country

नोएडा में पत्रकार पर हमला, आरोपी पूर्व मंत्री का भतीजा फरार

नोएडा शहर की गिनती हाइटेक शहरों में की जाती है। प्रदेश सरकार द्वारा शहर की सुरक्षा को दुरुसत करने के लिए जिले में कमिश्नर सिस्टम लागू कर चुकी है। लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि फिर भी कही न कही कुछ कमी रह गयी है।आम जनता की आवाज बन जनता को सच से परिचित कराने वाले लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर आए दिन हमले बढ़ते ही जा रहे है।

बावजूद इसके समाज को आइना दिखाने का काम पत्रकार बड़ी ही शिद्दत के साथ कर रहे है। आपको बता दे कुछ समय पूर्व हाईकोर्ट की टिप्पणी के बाद प्रदेश सरकार ने आदेश दिया था कि पत्रकारों के मामले बेहद संवदेनशील तरीके से देखे जायें। अपने आदेश पर सरकार ने ये सुनिश्चित किया कि पत्रकारों से अभद्रता करने वालों पर 50,000 रुपये का जुर्माना लगेगा एवं उनसे बदसलूकी करने पर तीन साल की जेल होगी। साथ ही साथ ये भी कहा कि पत्रकार को धमकाने वाले को 24 घंटे के अंदर जेल भेज दिया जाएगा।

लेकिन फिर भी आपराधिक किस्म के लोग सरकार के इन आदेशों को ढ़ेगा दिखाते हुये नजर आते है। नतीजन आये दिन पत्रकार गोरखधंधा करने वालों का शिकार हो रहे हैं।सर्दी हो या बरसात दिन-रात खबरों का संकलन करके जन-जन तक जनता की आवाज पहुंचाने वाले पत्रकार ही सुरक्षित नही है तो जनता का क्या हाल होगा।

ताजा मामला नोएडा के सैक्टर-5 स्थित हरौला गाँव का है । जहा कल शाम सुबोध नामक एक व्यक्ति ने जेएमबी न्यूज समाचार पत्र के संपादक सुनील कुमार के साथ हाथापाई की व उनका मोबाइल छीन लिया। आपको बता दे कि 15 अगस्त को गांव में सुबोध के मकान का छ्ज्जा गिर गया था। जिसमें चार बच्चे जिनकी उम्र तीन,पांच,आठ और चौदह वर्ष की थी गंभीर रुप से घायल हो गये थे।तीन वर्षीय बच्चे के करीब 25-30 टांके आये थे। पुलिस आने से पहले ही मकान मालिक ने मामले को रफा दफा कर दिया।

मामला मीड़िया में आने के बाद सुबोध ने पत्रकार के ऊपर आरोप लगाया कि मीड़िया को उसने ही बुलाया है। इसी द्वेश भावना को मन में रख कर सुबोध ने मौके देखकर दंबगई दिखाते कल पत्रकार के साथ मारपीट की और कपड़े तक फाड़ डाले। यही नहीं, बल्कि पत्रकार का फोन भी छीन लिया। याद रहे कि पत्रकार पर आरोपी हमलावर सुबोध बसपा सरकार में राज्य मंत्री रहे अनिल अवाना का भतीजा है।

फिलहाल, पुलिस ने मामले की गंभीरता को दिखाते हुये मामला दर्ज करके जांच शुरु कर दी है। मामला पुलिस के संज्ञान में आने के बाद से ही आरोपी फरार है। इस बाबत थाना सेक्टर 20 के एस एच ओ राकेश कुमार सिंह ने बताया कि मामले की विवेचना जारी है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD