Country

 JNU के स्टूडेंटस ने फीस बढोतरी के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

जवाहरलाल नेहरू स्टूडेंट यूनियन (जेएनयूएसयू) ने आज कैंपस के बाहर कथित फीस वृद्धि और छात्रावास ड्राफ्ट मैनुअल को लेकर सैकड़ों छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे और मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक मौजूद थे । विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने प्रवेश द्वार पर सीआरपीएफ कर्मियों को तैनात करने के साथ ही बैरिकेड्स लगा दिए हैं। प्रदर्शन कर रहे कुछ छात्रों को जवानों ने टांगकर बस में बैठाया है I बाद में प्रदर्शन को बढ़ता देख छात्रों का खदेड़ने के लिए वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया जेएनयू के छात्रों का कहना है कि जब उनकी फीस में कटौती की मांग को स्वीकार नहीं किया जा रहा तो उन्हें दीक्षांत समारोह मंजूर नहीं है I हॉस्टल फीस बढ़ोतरी का मामला यूनिवर्सिटी में काफी आगे बढ़ चुका है और इसका कोई हल नहीं निकला जा रहा है I
जेएनयू प्रशासन ने हॉस्टल में इस्टैबलिशमेंट चार्जेज, क्रॉकरी और न्यूजपेपर आदि की कोई फीस नहीं बढ़ाई है। लेकिन रूम रेंट 3000 पर्सेंट तक बढ़ा दिया है I पहले जहां सिंगल सीटर हॉस्टल का रूम रेंट 20 रुपये था वो अब बढ़ाकर 600 रुपये कर दिया है। वहीं डबल सीटर का रेंट दस रुपये से बढ़ाकर 300 रुपये कर दिया है। ये पहले की अपेक्षा 3000 पर्सेंट ज्यादा है।
यूटिलिटी चार्जेज के तौर पर एज पर एक्चुअल का प्रावधान किया है, जिसके अनुसार स्टूडेंट्स को इस्तेमाल के हिसाब से इसका खर्च देना होगा, वहीं सर्विस चार्जेज के तौर आईएचए कमेटी ने 1700 रुपये महीने फीस जोड़ दी है।
वहीं हॉस्टल में पहले छात्रों को कभी सर्विस चार्ज या यूटिलिटी चार्जेज जैसे कि पानी और बिजली के पैसे नहीं देने होते थे। जेएनयू प्रशासन की ओर से इसमें भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। इसके साथ ही वन टाइम मेस सिक्योरिटी जो कि पहले 5500 रुपये थी, इसे भी 200 पर्सेंट से ज्यादा बढ़ा दिया गया है अब ये राशि 12000 कर दी गई है।

You may also like