[gtranslate]
Country

राम मंदिर भूमि पूजन समारोह के लिए आडवाणी, जोशी और उद्धव ठाकरे को भी निमंत्रण

राम मंदिर के मुद्दे पर भाजपा को दो सीटों से लेकर सत्ता तक पहुँचाने वाले लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे तत्कालीन दिग्गज बेशक आज पार्टी में हाशिये पर हैं लेकिन राम मंदिर आंदोलन में अतीत की उनकी भूमिका को नजरअंदाज करना काफी कठिन है। यही वजह है की मंदिर के भूमि पूजन समारोह में उन्हें भी आमंत्रित किया गया है।

राम मंदिर भूमि पूजन समारोह की तैयारियां जोरों पर हैं। राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के अनुसार, मंदिर का भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद करेंगे। प्रधानमंत्री के साथ ही भूमिपूजन समारोह में कई नेता मौजूद होंगे। जिनमें भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी शामिल हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भी इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया जाएगा।

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन की तारीख केंद्र सरकार द्वारा तय किए जाने के बाद क्या मंदिर निर्माण पर जोर दे रहे शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे समारोह के लिए मौजूद रहेंगे? इसे लेकर काफी चर्चा हुई थी। शिवसेना ने भी राम मंदिर के निर्माण के लिए 5 करोड़ रुपये के दान की घोषणा की है। हालांकि, इस तथ्य पर प्रतिक्रिया देते हुए कि अभी तक कोई निमंत्रण प्राप्त नहीं हुआ है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कुछ दिन पहले कहा था कि उद्धव ठाकरे को अयोध्या आने के लिए निमंत्रण की आवश्यकता नहीं है। शिवसेना ने अयोध्या का मार्ग प्रशस्त किया है। उन्होंने यह भी कहा था कि शिवसेना ने अयोध्या में सभी बाधाओं को दूर कर दिया है।

300 लोग हो सकते हैं आमंत्रित?

जिन बड़े लोगों को भूमिपूजन समारोह में आमंत्रित किए जाने की बात कही जा रही है उनमें आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शामिल हैं। करोना संकट के मद्देनजर राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र से आमंत्रितों की सूची को सीमित करने का प्रयास किया जा रहा है। खबरों के अनुसार, आयोजन के लिए लगभग 300 लोगों को आमंत्रित किया जा सकता है।

1989 की यादों को ताजा करेगा

ट्रस्ट के इस कार्यक्रम के प्रति उस उत्साह को फिर से जगाने की योजना है, जिसका आयोजन 10 नवंबर 1989 को विश्व हिंदू परिषद द्वारा किया गया था। ट्रस्ट के सदस्य कामेश्वर चौपाल के अनुसार, आडवाणी ने राम मंदिर आंदोलन को लोगों तक पहुंचाया था। अन्य भाजपा नेताओं ने भी इसे लोकप्रिय बनाने में मदद की। ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास के प्रवक्ता महंत कमल नयन दास के अनुसार, भूमिपूजन कार्यक्रम के दौरान प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गर्भगृह में पांच चांदी की ईंटें भेंट की जाएंगी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD