[gtranslate]
Country

जी तमिल को सूचना मंत्रालय का नोटिस

प्रधानमंत्री मोदी पर अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने के कारण एक तमिल चैनल को सूचना प्रसारण मंत्रालय नोटिस भेजा है। नोटिस में उक्त रियलिटी शो के प्रसारण पर स्पष्टीकरण मांगा गया, जिसमें अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया था। ख़बरों के मुताबिक़, इस शो में दो बच्चों ने कथित तौर पर नोटबंदी पर व्यंग्य करते हुए प्रधानमंत्री मोदी और उनके कपड़ों का मज़ाक उड़ाया था।

 

तमिलनाडु भाजपा के आईटी और सोशल मीडिया सेल के अध्यक्ष सीटीआर निर्मल कुमार ने प्रसारण मंत्रालय को इस पर शिकायत की थी। शिकायती पत्र के मुताबिक ज़ी तमिल पर जूनियर सुपर स्टार्स सीजन 4 नाम से एक रियलिटी शो प्रसारित किया जाता है। 15 जनवरी को प्रसारित हुए इस शो में दो बच्चों ने एक कॉमेडी कार्यक्रम प्रस्तुत किया, जिसमें प्रधानमंत्री के खिलाफ आपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया है। शिकायतकर्ता ने शो के इस हिस्से को हटाने की मांग की है।

शिकायतकर्ता के अनुसार , इस रियलिटी शो में तमिल अभिनेत्री स्नेहा एंकर थीं। आर जे सेंथिल और कॉमेडियन अमूधवनन बतौर जज शामिल थे। प्रोग्राम में 14 साल से कम उम्र के दो प्रतिभागियों ने प्रधानमंत्री मोदी पर कथित व्यंग्य के लिए तमिल फिल्म ‘इम्साई अरासन 23 एम पुलिकेसी’ की थीम को अपनाया। ये फिल्म ब्रिटिश दौर के एक ऐसे राजा के बारे में है, जो अंग्रेजों के हाथों की

कठपुतली है। खुद शानो-शौकत की जिंदगी जीता है लेकिन उसकी प्रजा अकाल से दुखी है।

इस प्रोग्राम के शो में दिखाया गया कि बच्चे एक राजा की कहानी सुना रहे हैं जो काले धन को खत्म करने के लिए नोटों को बंद करने की कोशिश करता है। इस कोशिश में वह नाकाम रहता है। प्रोग्राम में आगे बच्चे कहते हैं कि राजा काले धन को रोकने के बजाय अलग-अलग रंगों के जैकेट पहनकर विदेश में घूमता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार,प्रोग्राम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विनिवेश योजना, उनकी विदेश यात्रा और बाक़ी चीज़ों पर भी व्यंग्यात्मक टिपण्णी किए गए हैं। भाजपा का यह भी आरोप है कि बच्चे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मज़ाक उड़ाते रहे और वहाँ मौजूद जज इस पर हँसते रहे।

इस मामले में निर्मल कुमार ने कहना है कि ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के चीफ क्लस्टर ऑफिसर सिजू प्रभाकरन ने मुझसे कहा है कि वह कार्यक्रम से संबंधित सभी तरह के कॉन्टेंट को हटा देंगे और जल्द ही स्पष्टीकरण देंगे। दूसरी ओर प्रभाकरन ने कहा कि उनकी कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन टीम इस मुद्दे को देख रही है। प्रभाकरन ने आगे किसी भी तरह के कॉमेंट से इनकार कर दिया।भाजपा के निर्मल कुमार का कहना है कि पीएम की छवि को खराब करने के लिए यह जानबूझकर किया गया है।

 

इस मामले में सूचना प्रसार मंत्रालय ने कहा है कि उनको 15 जनवरी को प्रसारित हुए एक शो के बारे में शिकायत मिली है। जिसके बाद मंत्रालय के अधिकारियों ने ज़ी तमिल से नोटिस भेजकर 7 दिनों के भीतर प्रतिक्रिया मांगी है। साथ ही अधिकारियों ने ये भी साफ किया कि ये नोटिस कारण बताओ नोटिस नहीं है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD