[gtranslate]
Country

भारतीय प्रवासी सम्मेलन में पीएम मोदी ने कहा, भारत का ‘वन सन, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड’ का मंत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार 9 जनवरी को 16वें भारतीय प्रवासी सम्मेलन को संबोधित किया। इस बार प्रवासी सम्मेलन का विषय था ‘आत्मनिर्भर भारत में योगदान’। प्रधानमंत्री ने प्रवासी सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारत का ‘वन सन, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड’ का मंत्र दुनिया के लिए अपील कर रहा है। भारत का इतिहास इस बात का सबूत है कि किसी भी परिस्थिति में भारत की क्षमता को लेकर कोई सवाल या संदेह नहीं है। आज भारत का अंतरिक्ष कार्यक्रम और टैक्स स्टार्ट-अप इको सिस्टम वैश्विक क्षेत्र में एक नेता है। यहां तक कि कोविड के दौरान, कई नए इकसिंगों और टेक स्टार्ट-अप्स की शुरुआत भारत से हुई। भारत ने जो नई व्यवस्थाएं विकसित की हैं उनकी कोरोना की इस समय में वैश्विक संस्थाओं ने प्रशंसा की है। आधुनिक टेक्नोलॉजी ने गरीब से गरीब को मजबूत करने का जो अभियान आज भारत में चल रहा है उसकी चर्चा विश्व के हर कोने में है, हर स्तर पर है।

कोरोना वैक्सीन पर बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में आज भारत दुनिया के सबसे कम मृत्यु दर और सबसे अधिक रिकवरी रेट वाले देशों में है। आज भारत एक नहीं, बल्कि दो मेड इन इंडिया कोरोना वैक्सीन के साथ मानवता की सुरक्षा के लिए तैयार है। भारत में जो उत्पाद बनाए जाएंगे और भारत को जो समाधान मिलेंगे, उनका फायदा पूरी दुनिया को मिलेगा। भारत ने Y2K में समस्या का समाधान किया था और हमारे फार्मा उद्योग ने दिखाया है कि किसी भी क्षेत्र में भारत की क्षमता से पूरी दुनिया को लाभ होता है। महामारी के इस दौर में भारत ने फिर दिखा दिया कि हमारा सामर्थ्य क्या है, हमारी क्षमता क्या है। इतना बड़ा लोकतांत्रिक देश जिसकी एकजुटता के साथ खड़ा हुआ उसकी मिशाल दुनिया में नहीं है।

आत्मनिर्भर भारत अभियान के बारे में में उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत से, आप भारत से दुनिया भर के सबसे गरीब देशों और लोगों के लिए सस्ती और गुणवत्ता वाले समाधान लेने के लिए एक माध्यम बन सकते हैं । निवेश से लेकर प्रेषण तक, आपका योगदान अद्वितीय रहा है। भारत ने पौष्टिक परिवर्तन लाने के लिए शिक्षा से लेकर उद्यम तक संरचनात्मक सुधार किए हैं। विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए, हमने पीएलआई योजना शुरू की है, जिसने बहुत कम समय में काफी लोकप्रियता हासिल की है। भारत सरकार हर समय, हर पल आपके साथ, आपके लिए खड़ी है। दुनियाभर में कोरोना लॉकडाउन से विदेशों में फंसे 45 लाख से ज्यादा भारतीयों को वंदे भारत मिशन के तहत लाया गया। विदेशों में भारतीय समुदायों को समय पर सही मदद मिले इसके लिए हर संभव प्रयास किए गए।

You may also like

MERA DDDD DDD DD