Country sport

भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास , 20 साल बाद अमेरिका को दी पटखनी

भारतीय महिला हॉकी टीम ने ओलिंपिक क्वालिफायर के पहली लीग में अमेरिका को 5-1 से हराया। इसी अंतर से टीम ने 20 साल पहले हराया था। बल्कि  भारत ने पहली बार किसी बड़े टूर्नामेंट में अमेरिका को मात दी है। भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में हुए मैच के पहले क्वार्टर में दोनों ही टीमें गोल नहीं कर सकीं। 27 मिनट तक स्कोर 0-0 से बराबर था। 28वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर लिलिमा मिंज ने गोल कर  टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई।फिर इसके बाद एक के बाद गोलों की बढ़त हुई और मैच ने अपना नया रुख ले लिया।

इसके पहले 1999 में अमेरिका में इन्विटेशनल टूर्नामेंट में भी भारत ने अमेरिका को 5-1 से मात दी थी।  लेकिन अबकी बार गुरजीत कौर ने मैच में दो गोल किए और टीम को जीत की और बढ़ाया। यहां  कप्तान रानी रामपाल प्लेयर ऑफ द मैच बनीं हैं। भारत ने ओवरऑल 5वीं बार अमेरिका को हराया। अब तक दोनों के बीच 30 मैच खेले जा चुके है। ओलिंपिक क्वालिफायर भारतीय महिला टीम ने अमेरिका को हराकर जीत की मिशाल कायम की है  अब देखना आज दूसरे लेग में क्या होगा। इसमें टीम किस तरह का प्रदर्शन करती है।

एक अन्य मुकाबले में भारतीय पुरुष टीम ने रूस को 4-2 से हराया। रूस के खिलाफ भारत की यह लगातार छठी जीत है। यहां पर  5वें मिनट में हरमनप्रीत सिंह ने गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई। 17वें मिनट में आंद्रेई कुराएव ने गोल कर स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। 24वें और 53वें मिनट में मनदीप सिंह ने और 48वें मिनट में सुनील ने गोल कर भारतीय टीम को 4-1 की बढ़त दिला दी।60वें मिनट में कॉर्नर पर रूस के सिमेन ने गोल कर स्कोर 2-4 किया। मनदीप प्लेयर ऑफ द मैच रहे।

You may also like