[gtranslate]
Country

हिम्मत है तो विपक्ष अनुच्छेद 370 वापसी का वादा करे: पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए जलगांव में रैली के दौरान विरोधी दलों को अनुच्छेद 370 को लेकर चुनौती दी।उन्होंने  कहा ”छत्रपति शिवाजी महाराज की पवित्र धरती से मैं विपक्ष को चुनौती देता हूं कि अगर आपमें हिम्मत है तो अपना रुख स्पष्ट करें और घोषणा करें कि आप अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35 ए को निरस्त करने के सरकार के फैसले का समर्थन करते हैं या नहीं।” उन्होंने ने कहा कि, अनुच्छेद 370 को वापस लाएंगे। नहीं तो इसे लेकर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें।’ उन्होंने  रैली को संबोधित करते हुए सवाल किया, ‘ क्या भारत के लोग उन्हें ऐसा करने की अनुमति देंगे? क्या भारत के लोग इसे स्वीकार करेंगे?’ मोदी ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर से संबंधित कांग्रेस-एनसीपी नेताओं द्वारा दिए गए बयानों को सुनना चाहिए। वे पूरे देश से एकदम विपरीत सोच है। उनकी सोच पड़ोसी देश जैसी ही है।’  उन्होंने कहा, ‘उनके बीच एक बड़ा तालमेल मालूम पड़ता है।’ मोदी ने जोर देकर कहा कि पांच अगस्त को सरकार ने कुछ ऐसा किया जो हर किसी को असंभव लगता था। जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के लिए अनुच्छेद 370 को निरस्त करके, वहां के लोगों को राष्ट्रीय मुख्यधारा में शामिल करने और प्रगति के लिए सक्षम बनाने का काम किया। मोदी ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हमारे लिए सिर्फ धरती का टुकड़ा भर नहीं है, वे भारत के ताज का प्रतिनिधित्व करते हैं।’ मोदी ने कहा कि पिछले पांच सालों में भाजपा सरकार द्वारा किए गए ढेर सारे कामों से विपक्ष हैरान है और वे यह भी मान रहे हैं कि महाराष्ट्र में भी भाजपा-शिवसेना अच्छा प्रदर्शन कर रही है। उन्होंने कहा, ‘उनके बीच एक बड़ा तालमेल मालूम पड़ता है।’ मोदी ने जोर देकर कहा कि पांच अगस्त को सरकार ने कुछ ऐसा किया जो हर किसी को असंभव लगता था। जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के लिए अनुच्छेद 370 को निरस्त करके, वहां के लोगों को राष्ट्रीय मुख्यधारा में शामिल करने और प्रगति के लिए सक्षम बनाने का काम किया। मोदी ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हमारे लिए सिर्फ धरती का टुकड़ा भर नहीं है, वे भारत के ताज का प्रतिनिधित्व करते हैं।’ मोदी ने कहा कि पिछले पांच सालों में भाजपा सरकार द्वारा किए गए ढेर सारे कामों से विपक्ष हैरान है और वे यह भी मान रहे हैं कि महाराष्ट्र में भी भाजपा-शिवसेना अच्छा प्रदर्शन कर रही है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में लोगों से एक बार फिर ‘मजबूत सरकार’ वापस लाने का आग्रह करते हुए, उन्होंने प्रशासन की विभिन्न उपलब्धियों का उल्लेख किया जो राज्य में युवाओं, महिलाओं और किसानों के जीवन को बदल रही हैं। उन्होंने भरोसा दिलाते हुए कहा, ‘हम 2022 तक राज्य और देश के बाकी हिस्सों के हर गरीब व्यक्ति के सपने को साकार करने में मदद करने के लिए पूरी क्षमता से काम कर रहे हैं। पूरे क्षेत्र में आर्थिक स्थिति बहुत जल्दी बदल जाएगी।’ मोदी ने कहा कि देश में प्रत्येक घर में पानी का कनेक्शन लाने के लिए अकेले जल जीवन मिशन पर 3.50 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे, किसानों को नियार्तक बनने के लिए प्रेरित किया जाएगा जिसमें खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। पीएम मोदी ने कहा, ‘हम आने वाले पांच सालों के लिए देवेंद्र फडणवीस जी की अगुवाई में सरकार के लिए एक बार फिर आप सभी का आशीर्वाद लेने आए हैं। साथ ही आपने लोकसभा चुनाव में हमें जो आशीर्वाद दिया उसके लिए भी आभार जताने आए हैं।’

प्रधानमंत्री बुधवार और गुरुवार को तीन रैलियां करेंगे। इस दौरान वे अकोला, ऐरोली (नवी मुंबई), पर्टूर, पुणे, सतारा और परली जाएंगे। आखिर में वे 18 अक्टूबर को मुंबई में चुनावी जनसभा के साथ महाराष्ट्र में चुनावी अभियान का समापन करेंगे। महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे। ऐसे में सभी पार्टियां प्रचार के आखिरी दिनों में पूरा जोर लगा रहीं हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही राज्य में प्रचार की कमान संभाली है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD