Country Latest news

हैदराबाद के मामले ने किया निर्भया केस को ताजा 

हैदराबाद के मामले ने एक बार फिर देश को शर्मसार किया है। इस केस ने एक बार फिर राजधानी दिल्ली के निर्भया केस को ताजा कर दिया है। इस बार तो हैवानियत इतनी हुई की महिला को रेप के बाद जिन्दा जला दिया गया। अब देश ने एकजुट होकर हैदराबाद की पीड़िता को न्याय दिलाने की मुहीम शरू कर दी है।

आखिर हमारे देश में ये क्या हो जाता है। हर दिन,हर हफ्ते,हर महीने, हर साल, सालों साल बीत जाते है ऐसे रेप केस आए दिनों सामने आते रहतें हैं। साल 2012 में अपने एक केस के बारे में सुना होगा उस केस का नाम डाला गया था ‘निर्भया केस’। पूरा देश उस रेप की वजह से एकजुट हो गया था। उस वक्त लोगों ने इतना गुस्सा दिखाया पुलिस प्रशाशन के खिलाफ गुस्सा दिखाया,तब देश में ऐसा माहौल बन गया था ऐसा लग रहा था मानो अब रेप पर लगाम लग जाएगी। लेकिन ऐसा कुछ नहीं था अब भी हैदराबाद की पीड़िता जैसी महिलायें बर्बाद हो रही है। उनके साथ रेप कर जिन्दा जलाया जा रहा है।

कुमार विश्वाश ने जताई नाराजगी

वर्षों -वर्ष,दशकों -दशक कुछ नहीं सीखा हमने कुछ नहीं किया हमारी व्यवस्था ने हमे अधिकार ही नहीं बेटियों जैसी पवित्र ईश्वरीय परिभाषा को स्वीकारने का। हर बार वही चीख,वही वहशीपन,वही गुस्सा और कुछ समय बाद वही बेशर्म खामोशी।जिन्हे नाज है हिन्दुस्तान पर वो कहाँ है ? ये सवाल और ये गुस्सा है कवि कुमार विश्वाश का। जिस गुस्से को उन्होंने हैदराबाद केस के बारे में सुनकर कुछ इस तरह बयां किया।

कांग्रेस ने भी उठाया कदम  

इस मुद्दे को अब कांग्रेस संसद में उठाने की तैयारी में है। जानकारी के मुताबिक कांग्रेस लोकसभा में इस मुद्दे को सोमवार को उठाएगी। वहीं सोमवार को मुख्य विपक्षी पार्टी  संसद के बाहर भी प्रदर्शन करेगी। जबकि भाजपा सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मुद्दे पर मुलाकात करेंगे।

लोकसभा में भी होगी चर्चा 

हैदराबाद मामले पर लोकसभा में आज 12 बजे चर्चा होगी। वहीं राज्यसभा में कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने इस मामले को उठाया। हालांकि अभी तक इस मामले को लेकर पीएम की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है।

मामले को सुलझाने के लिए पंक्चर मिस्त्री और सीसीटीवी फुटेज की मिली मदद 

तेलंगाना के हैदराबाद की डॉक्टर से हुई हैवानियत के मामले को सुलझाने में एक पंक्चर मिस्त्री और सीसीटीवी फुटेज की अहम भूमिका रही है। कैमरे से मिली फुटेज और मिस्री की मदद से पुलिस ने 48 घंटों के भीतर मामले को सुलझा लेने का दावा किया।

 राज्यसभा उपसभापति हरिवंश ने भी जताया दुःख  

राज्यसभा उपसभापति हरिवंश ने भी इस घटना पर दुख जताते हुए कहा कि घटना के बारे में पढ़कर उनके रोंगटे खड़े हो गए। उन्होंने कहा कि युवा महिला डॉक्टर के साथ किस तक बर्बरता की गई। हम सबको एक बार इस पर विचार करने की जरूरत है कि एक समाज के तौर पर हम कहां जा रहे हैं।

 चंद्रशेखर राव नेफास्ट ट्रैक कोर्टबनाने के दिए आदेश 

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने पुलिस को सामूहिक दुष्कर्म की जांच जल्दी पूरी करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने घटना के आरोपियों को सख्त सजा दिलाने और पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने के आदेश दिए हैं।

क्या है मामला

दरअसल,मामला यह है कि, 28 नवंबर को हैदराबाद के शादनगर में टोल प्लाजा पर 26 साल की महिला पशु चिकित्सक का जला हुआ शव मिला था। पुलिस ने 29 नवंबर को वारदात को अंजाम देने वाले चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। गिरफ्तारी के बाद घटना की हैरान करने वाली कहानी सबके सामने आई थी। इन आरोपियों ने टोल प्लाजा पर खड़ी पीड़िता की स्कूटी के टायर की हवा निकाल दी थी। जब डॉक्टर ने स्कूटी के पास पहुंची तो शराब के नशे में धुत्त ये आरोपी उसके पास सहायता करने के बहाने पहुंचे। बाद में इन्होंने डॉक्टर के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया और उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। इतना ही नहीं उन्होंने मृत डॉक्टर के शरीर को जला दिया।

You may also like