[gtranslate]
Country

पाकिस्तान की जेल से 18 साल बाद स्वदेश लौटी हसीना बीबी

पाकिस्तान की लाहौर जेल में पिछले 18 सालो से बंद हसीना बीबी की वतन वापिस हुई है। प्रशासन ने वृद्धा को गुरूनानक देव अस्पताल में ठहराया है। हसीना बीबी पति दिलशाद अहमद निवासी सहारनपुर नवाब का किला 2002 में ही दूर के रिश्तेदारो के पास लाहौर चली गईं थीं। परिजनो ने हसीना को काफी खोजा लेकिन उनका कहीं पता नहीं चल सका था। लाहौर में रिश्तेदारों ने उन्हें अकेला छोड़ दिया। वह लौटना चाहती थीं, लेकिन मदद करने वाला कोई नहीं मिला। कुछ सालों तक वहां समय काटती रहीं, इस बीच पासपोर्ट खो गया और पुलिस ने संदिग्ध मानकर जेल भेज दिया। उनके भतीजे जैहनुद्दीन चिश्ती ने बताया कि वह महाराष्ट्र स्थित औरंगाबाद के रहने वाले हैं।

मौसी की शादी यूपी के सहारनपुर में हुई थी 18 साल बाद वापस लौटने पर परिवार में खुशी है और जल्द ही उनको वापस लाएंगे। डीसी गुरप्रीत सिंह खैहरा के पीए सुबास से बातचीत हुई है उन्होंने भरोसा दिलाया है कि पूरी मदद की जाएगी। जैहनुद्दीन ने कहा कि शुक्र है उनकी मौसी सही सलामत वतन लौट पाईं। उन्होंने बताया कि पुलिस से भी वेरीफिकेशन के लिए फोन आ चुका है और जल्द ही यहां से हसीला को लेने के लिए रवाना होंगे।

यहां लौटने पर हसीना बेगम के रिश्तेदारों और औरंगाबाद पुलिस अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। हसीना ने कहा, “मैं बहुत मुश्किल दौर से गुजरी और अपने देश लौटने के बाद मुझे शांति का अहसास हो रहा है। मुझे लग रहा है जैसे मैं स्वर्ग में हूं। मुझे पाकिस्तान में जबरदस्ती कैद कर लिया गया था।” उन्होंने कहा, “मैं इस मामले में रिपोर्ट दर्ज करने के लिए औरंगाबाद पुलिस को धन्यवाद देना चाहती हूं।” हसीना बेगम के एक रिश्तेदार ख्वाजा जैनुद्दीन चिश्ती ने भी औरंगाबाद पुलिस को हसीना के घर लौटने में मदद करने के लिए धन्यवाद दिया। 18 साल पहले अपने पति के रिश्तेदारों से मिलने लाहौर गई हसीना बेगम ने अपना पासपोर्ट खो दिया था। जिसके बाद से वह वहां कि जेल में बंद थी।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, औरंगाबाद के सिटी चौक थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले राशिदपुरा इलाके की रहने वाली बेगम की शादी दिलशाद अहमद से हुई है जो उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रहने वाले हैं। पुलिस ने पाकिस्तानी अदालत से आग्रह किया कि महिला निर्दोष है जिसके बाद अदालत ने मामले में जानकारी मांगी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD