[gtranslate]
Country

गोवा में ‘आप’ ने अमित पालेकर को बनाया सीएम फेस

अगले महीने होने जा रहे गोवा सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीखों का एलान हो चुका है। इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों ने कमर कस ली है। इस सबके बीच आम आदमी पार्टी ने मुख्यमंत्री के चेहरे का एलान कर दिया है। पार्टी ने अमित पालेकर को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करके गोवा में बड़ा दांव खेला है। अमित भंडारी समाज से आते हैं। गोवा में भंडारी समाज की आबादी 35 फीसदी  है।

 

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने  प्रेस कॉन्फ्रेंस में बार-बार भंडारी समाज का जिक्र किया।उन्होंने कहा कि गोवा में भंडारी समाज बहुत बड़ा समाज है । 1961 में गोवा आजाद हुआ था। तब से लेकर आज तक साठ साल में इस समाज से एक आदमी ढाई साल के लिए सीएम बना था। हमने कहा कि हम भंडारी समाज से सीएम चेहरा देंगे।’

केजरीवाल ने आगे कहा, ‘कुछ पार्टियों ने हम पर आरोप लगाया कि हम जाति की राजनीति कर रहे हैं। भंडारी समाज के किसी चेहरे को उन पार्टियों ने सीएम नहीं बनाया। इस समाज के लोगों ने खून-पसीने से गोवा के विकास में योगदान दिया।

 

कौन हैं अमित पालेकर?

 


अमित पालेकर गोवा में काफी प्रसिद्ध हैं। पेशे से वकील हैं लेकिन सामाजिक कार्यकर्ता के तौर पर भी उनकी काफी पहचान है। वह हमेशा से भ्रष्टाचार का मसला उठाते रहे हैं। पालेकर लंबे समय से गोवा के सांता क्रूज इलाके में सक्रिय हैं। यूं तो 2017 से ही वह आम आदमी पार्टी से जुड़े, लेकिन उनके लिए राजनीति नई नहीं हैं। उनकी मां दस साल तक सरपंच रह चुकी हैं।

अमित पालेकर ने कोरोनाकाल में लोगों की खूब मदद की। जब पूरे देश के अस्पतालों में बेड का संकट था, तब पालेकर ने अपने पास से एक स्थानीय अस्पताल को 135 बेड दान किए थे। मरीजों को इलाज दिलाने के अलावा, लॉकडाउन में सफर कर रहे परिवारों की मदद भी की थी।

 

भूख हड़ताल से सरकार को हिला दिया

 


पिछले दिनों गोवा में अमित पालेकर खूब चर्चा में रहे। उन्होंने ओल्ड गोवा हैरिटेज परिसर में अवैध तरीके से बनाए जा रहे एक बंग्ले के खिलाफ भूख हड़ताल की थी। उनके इस कदम से गोवा की सरकार भी सकते में आ गई। सरकार को उनके आगे झुकना पड़ा और विवादित ढांचे के खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ी। अमित के भूख हड़ताल के दौरान अरविंद केजरीवाल खुद उनसे मिलने पहुंचे थे।

You may also like

MERA DDDD DDD DD