[gtranslate]
Country

सपा विधायक पर गैंगस्टर एक्ट

कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन की परेशानी बढ़ती जा रही है। जिलाधिकारी के अनुमोदन के उपरांत विधायक तथा उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सहित 40 लोगों को गैंगस्टर एक्ट में निरुद्ध किया गया है। विधायक नाहिद हसन का मुख्य लीडर बनाया गया है। कैराना विधानसभा क्षेत्र स सपा के विधायक नाहिद हसन पर पहले से दर्जनभर मुकदमें दर्ज हैं। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा की तरफ से दर्ज मामले में विधायक नाहिद हसन को गैंग लीडर बनाया गया है। उनकी मां तबस्सुम हसन को गैंग के सदस्यों में शामिल किया गया है।

गैंग चार्ट के मुताबिक, विधायक अपने गैंग के सदस्यों के साथ मिलकर अपराध कर अपने स्वार्थ के लिए अवैध रूप से भौतिक, आर्थिक एवं दुनियावी लाभ अर्जित करते हैं। गैंग का समाज में भय तथा दहशत होने का कारण भी दिया गया है। इस विषय में कई जानकारी दी गई। 13 फरवरी को इस मामले को दिखाते हुए कानूनी रूप से जवाब दिया जाएगा। विधायक के मुताबिक इससे पहले भी मेरे तथा परिवार वालों के खिलाफ शासन के निर्देश पर फर्जी मुकदमें दर्ज किए जाते रहे हैं। गैंग रिकाॅर्ड में विधायक नाहिद हसन मोहल्ला आलदरम्यान तथा उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन निवासी आर्यपुरी के अलावा कई नाम सामने हैं।

इसमें शामिल सदस्यों का नाम महमूद, अरशद, नौशाद, इरफान, कय्यूम, आरिफ, फुरमान, साबिर, राजा उर्फ तासीम, मोनिस, इनाम, महताब उर्फ बीरू, मुनव्वर, फरमान, जुल्फान, इरफान, इलियास, अब्बास उर्फ वासी, मुबारिक, गुफरान, मुरसलीन, परवेज, हारून, अफसरून, आरिफ, तस्लीम, इमरान, नाजर, मंगता, हाशिम, सालिम, मोमीन, राशिद उर्फ भूरा, इंतजार, चैधरी दानिश उर्फ काला, अहसान तथा सारिक वहां के निवासी गांव रामडा तथा हैदर अली निवासी पठानान झिंझाना शामिल हैं। इस सभी को गैंगस्टर एक्ट में निरुद्ध कर दिया गया है। सपा विधायक नाहिद हसन साल 2017 में विधायक बने थे।

साल 2012 में सहारनपुर जनपद के गंगोह क्षेत्र में चुनावी उड़नदस्ता आरओ प्रभारी अरविद प्रताप सिंह ने नाहिद हसन व रिजवान के खिलाफ 26 जनवरी 2012 को 107-116 सीआरपीसी के तहत कार्रवाई की थी। 19 मार्च 2014 को दारोगा धर्मपाल सिंह ने गढ़ीपुख्ता थाने में धारा आइपीसी 188 के तहत नाहिद हसन कई समाजवादी कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। साल 2013 में तीन जुलाई को सकौती क्षेत्र के लेखपाल विनोद कुमार ने आइपीसी धारा 147,148, 353, 332, 364, 395, 504, 506 के तहत कैराना कोतवाली में दर्ज कराया था।

8 फरवरी साल 2016 में आइपीसी धारा 147, 342, 504, 506 व 65, 66-ए आइटी एक्ट के तहत नोएडा से मुकेश कुमार बजरंगी चैधरी ने मुकदमा दर्ज कराया था। साल 17 जनवरी 2018 को कैराना कोतवाली में मोहम्मद अली ने आइपीसी 420, 467, 468, 379, 427, 504, 506 के तहत नाहिद हसन व कईयों के खिलाफ मामला दर्ज कराया। 1 जुलाई 2018 को आइपीसी की धारा 504, 506 के तहत अरशद ने एनसीआर मामला दर्जा किया गया है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD