[gtranslate]
Country

महाराष्ट्र का फाइनल मैच, अब गैंद सोनिया के पाले में 

महाराष्ट्र में सरकार बनाना अभी दूर की कौड़ी है, क्योंकि यह निर्णय अब कांग्रेस हाइकमान लेगा। बताया जा रहा है कि शिवसेना के साथ सरकार बनाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अब भी तैयार नहीं है। रविवार को एनसीपी चीफ  शरद पवार ने पुणे में पार्टी नेताओं से चर्चा की। इसके बाद आज दिल्ली में वह सोनिया सहित कांग्रेस के बड़े नेताओं से मिलेंगे। पवार शिवसेना से गठबंधन को लेकर सोनिया गांधी को मनाने की कोशिश करेंगे। पहले उन्हें रविवार को ही दिल्ली जाना था, लेकिन अब वह आज दिल्ली जाएंगे। दूसरी ओर, भाजपा ने भी सरकार बनाने की फिर हुंकार भरी है।
महाराष्ट्र में सरकार बनाने का पूरा दारोमदार अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर है। बताया जा रहा है कि शिवसेना के साथ सरकार बनाने के लिए सोनिया गांधी अब भी तैयार नहीं है। शरद पवार उन्हें मनाने के लिए दिल्ली में आज या कल को मिल सकते हैं। कांग्रेस से जुड़े सूत्रों ने बताया कि पार्टी हाइकमान महाराष्ट्र के अपने नेताओं को न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर चर्चा के लिए शिवसेना के नेताओं के साथ बैठक करते देखने से खुश नहीं है।
एक पार्टी सूत्र ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अभी गठबंधन को मंजूरी नहीं दी है। आखिरी फैसला अभी होना है। आलाकमान ने महाराष्ट्र के कांग्रेस नेताओं से सरकार गठन के लिए शिवसेना के नेताओं से मुलाकात पर नाखुशी जाहिर कर दी है। इसके अलावा महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस नेताओं की ओर से तैयार किए गए न्यूनतम साझा कार्यक्रम के कुछ बिंदुओं पर कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं को ऐतराज है। उनसे मिलने पर पवार उन बिंदुओं पर चर्चा करेंगे। इसके बाद पवार सोनिया गांधी से मिलेंगे। सोनिया गांधी और शरद पवार की बात सफल होने पर ही शिवसेना के नेता संजय राउत और अनिल देसाई उनसे मिलेंगे। उससे पहले पवार शिवसेना प्रमुख उद्धव के साथ भी सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं।
उधर, दादर स्थित मुंबई भाजपा प्रदेश कार्यालय में तीन दिन चली माथापच्ची के बाद पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि महाराष्ट्र में सरकार तो भाजपा ही बनाएगी, मगर कैसे बनेगी इस सवाल को वह मुस्कराकर टाल देते हैं। इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने भी यही दावा किया था।

You may also like

MERA DDDD DDD DD