[gtranslate]
Country

खेती में डिजिटल इंडिया, इन पांच APP के जरिए किसान उठा सकते हैं सरकारी सुविधाओं का लाभ

खेती किसानी में भी डिजिटल इंडिया, इन 5 APP के जरिए उठा सकते हैं सरकारी सुविधाओं का लाभ

देश के अन्नदाताओं के लिए खेती-किसानी को आसान बनाकर उनकी आय में वृद्धि के लिए प्रयासरत मोदी सरकार ने पिछले पांच सालों में कई मोबाइल ऐप लॉन्च किए हैं जिसका प्रयोग किसान आसानी से कर सकते हैं। वर्तमान में एक स्मार्ट फोन की पहुंच घर तक है ऐसे में इन ऐप से किसानों को काफी लाभ मिलेगा।

इन ऐप के जरिए देश की रीढ़ की हड्डी कहे जाने किसान को अपने से संबंधित स्कीमों की घर बैठे ही जानकारी प्राप्त हो सकेगी। अब तक पहले स्कीमें फाइलों में दब कर रह जाती थी। लेकिन इन ऐप के कारण आप किसान से संबंधित जानकारी सीधे किसान को मिल सकेंगी। साथ किसान अब सीधे कृषि मंत्रालय से जुड़कर अपना काम और आसान कर सकते हैं।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को डिजिटल इंडिया बनाने के लिए अग्रसर रहते हैं। किसान पीछे न रह जाए इसके लिए मोदी सरकार कई सराहनीय कार्य कर रही है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि डिजिटल तकनीक के जरिए किसानों की राह आसान होगी।

किसानों के लिए बनाए गए पांच ऐप

 

PM किसान ऐप

चित्रकूट में 24 फरवरी को केंद्र में काबिज मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की पहली वर्षगांठ पर किसानों को क्रेडिट कार्ड और उत्पादक संगठन (FPO) के साथ-साथ पीएम-किसान ऐप का भी उपहार दिया था। जिसके उपयोग से किसान इस स्कीम से जुड़ी सभी बातों की जानकारी ले पाएंगे। मोदी सरकार की यह सबसे बड़ी स्कीम मानी जाती है। जिसके तहत अब तक किसानों  यह मोदी सरकार की सबसे बड़ी स्कीम है। जिसके तहत अब तक लगभग 51 हजार करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं। इस स्कीम में सालाना 6-6 हजार रुपये प्रति किसान को दिए जाते हैं।

सीएचसी-फार्म मशीनरी ऐप

खेती किसानी में मशीनीकरण को बढ़ाने के लिए सरकार ने कृषि यंत्रीकरण उपमिशन नामक स्‍कीम भी बनाई है। जिसमें किसानों की जुताई बुआई पौधारोपण, फसल कटाई और वेस्ट मैनजमेंट के लिए उपयोग में आने वाली मशीनों की खरीद पर सब्सिडी दी जाती है। इसी के जरिए सरकार कस्टम हायरिंग सेंटर यानी मशीनरी सिस्टम भी बनाने में जुटी है। इसके लिए दिए गए ऐप से किसान ओला-उबेर की तरह आर्डर देकर अपने लिए जरुरी उपकरण या मशीन बहुत ही कम कीमत पर घर मंगवा सकते हैं। इसके लिए CHC Farm Machinery ऐप बनाया गया है।

कृषि किसान ऐप

किसानों की आमदनी को बढ़ाने के कदम की ओर भी सरकार का पूरा ध्यान रहा है। जिसके लिए सरकार की ओर से किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए 2019 में कृषि किसान ऐप मोबाइल ऐप लॉन्च किया गया था। इस ऐप से किसान अब घर बैठे सारी जानकारी ले पाएंगे। मोबाइल के जरिए अब किसान बेहतर जिंदगी जी पाएंगे। नेशनल फूड सिक्योरिटी मिशन से जुड़े इस ऐप से किसानों को अपने एरिया में वैज्ञानिक खेती के डेमोस्ट्रेशन का पता चल पायेगा।

पूसा कृषि ऐप

मार्च 2016 में कृषि मंत्रालय ने पूसा कृषि मोबाइल ऐप लॉन्च किया था। जिसके जरिए किसान अपनी समस्या का समाधान पा सकते थे। सरकार की कोशिश है कि एग्रीकल्चर के लिए विकसित की जा रही नई-नई टेक्नोलॉजी को मोबाइल के जरिए किसानों को बताकर उसे खेतों तक पहुंचाया जा सके। जिससे किसान मौसम की जानकारी लेकर उसके अनुसार ही फसल उगाएं और फसल का बचाव कर सके।  इसे एम-किसान (mkisan.gov.in) व प्ले स्टोर (apps.mgov.gov.in) से डाउनलोड किया जा सकता है।

किसान सुविधा ऐप

इसी क्रम में साल 2016 में केंद्र सरकार ने किसान सुविधा ऐप की शुरुआत की गई थी। इसके जरिए किसानों को मौसम, बाजार मूल्य, कृषि के साजो-सामान के साथ फसल कीटों और बीमारियों की जानकारी एवं प्रबंधन की सुविधा मिल सकती है। इस ऐप की सहायता से किसान मंडियों की स्थिति के बारे में जान सकते हैं। इस ऐप के सहारे न सिर्फ खेती-किसानी, मौसम और मंडी की जानकारी ले सकते हैं बल्कि कृषि वैज्ञानिकों की राय भी जान पाते हैं।

You may also like

MERA DDDD DDD DD