[gtranslate]
Country

‘राम का नाम गले लगाके बोले, ना कि गला दबाके’: टीमएसी सांसद नुसरत जहां

पश्चिम बंगाल में चुनाव नजदीक हैं ऐसे में राजनीति के गलियारों में हलचल मची हुई है। इसी बीच एक बार फिर ‘जय श्री राम’ से सियासत गरमा गई है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती के अवसर पर एक समारोह को संबोधित करने पहुंची थी। तब वहां मौजूद कुछ लोगों द्वारा जय श्री राम के नारे लगाए गए। जिसके बाद ममता ने गुस्से में आकर भाषण देने से इंकार कर दिया है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद नुसरत जहान ने भी इस पर में नारेबाजी पर नाराजगी जताई है।

नुसरत जहान ने अपने ट्वीट में कहा, “राम का नाम गले लगाके बोले ना कि गला दबाके।” नुसरत जहान ने कहा है, “मैं नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती के अवसर पर सरकारी समारोह में राजनीतिक और धार्मिक नारेबाजी की निंदा करती हूं।”

गौरतलब है कि नुसरत जहां हमेशा सोशल मीडिया के माध्यम से सामाजिक मुद्दों पर बोलती रही हैं। वह इस समय अपने निजी जीवन के कारण सुर्खियों में हैं। उनकी शादी को दो साल हो चुके थे। लेकिन अब खबर है कि उनकी शादीशुदा जिंदगी में सब कुछ ठीक नहीं है। उनका नाम एक सह-कलाकार के साथ जोड़ा जा रहा है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD