Country Latest news

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 60 बच्चों की मौत के मामले में डॉक्टर कफील खान निर्दोष साबित

गोरखपुर ऑक्सीजन कांड में निलंबित डॉक्टर कफील खान को उन पर लगे सभी आरोपों से मुक्त कर दिया गया है। यूपी के गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में अगस्त 2017 में ऑक्सीजन की कमी से 60 बच्चों की मौत हो गई थी, जिसके बाद इस मामले में डॉक्टर कफील को निलंबित कर दिया गया था। लेकिन अब उन पर लगे सारे आरोपों को हटा लिया गया हैं।
दरअसल अगस्त 2017 में गोरखपुर के बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से 60 बच्चों की मौत हो गई थी। जिसमे डॉक्टर कफील पर हादसे के दिन अपनी ड्यूटी नहीं निभाने सहित भ्रष्‍टाचार के आरोप लगे थे, जिसके बाद उन्हें नौकरी से निलंबित कर दिया गया था और लगभग 9 महीने तक जेल की हवा खानी पड़ी थी। अप्रैल 2018 में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने डॉक्टर कफील को जमानत दे दी थी।
तकरीबन 2 साल से डॉक्टर कफील निलंबित हैं। डॉक्टर कफील पर जो आरोप लगे थे प्रमुख सचिव खनिज और भूतत्व विभाग की अगुवाई में हुई जांच के बाद उन सभी आरोपों में सच्चाई नहीं पाई गई। जाँच की रिपोर्ट के मुताबिकए कफील ने घटना की रात बच्चों को बचाने की पूरी कोशिश की थी। जिसके बाद उन पर लगे सारे आरोपों से उन्हें बरी कर दिया गया हैं।
आरोपों से बरी होने के बाद डॉक्टर कफील खान ने लोगों को धन्यवाद करते हुए अपना एक वीडियो शेयर किया है। कफील खान ने कहा कि योगी सरकार ने मान लिया है कि कफील खान की कोई गलती नहीं थी। कफील ने कहा कि पूरे मामले में उसकी कोई गलती नहीं है और यही बात जांच रिपोर्ट में कही गई हैए जबकि उन्हें ही विलेन के तौर पर पेश किया गया। कफील खान ने पिछले 2 साल में अपने साथ हुए बर्ताव को लेकर बातें कहीं हैं और देश के लोगों को उनके साथ खड़े रहने के लिए धन्यवाद दिया।

You may also like