[gtranslate]
Country

दिल्ली हिंसा: IB कर्मचारी अंकित शर्मा के बाद तीन और अज्ञात शव नाले में मिले

दिल्ली हिंसा: IB कर्मचारी अंकित शर्मा के बाद तीन और अज्ञात शव नाले में मिले

दिल्ली में हुई हिंसा से अब तक 39 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 350 से अधिक लोग गंभीर हालत में अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती  हैं। जिन लोगों की हिंसा में मौत हुई है उनके परिवारजनों का कहना है कि उन्हें पार्थिव शरीर नहीं दी जा रही। दूसरी तरफ ये भी खबरें आ रही हैं कि कुछ लोग घर से निकले थे पर अभी तक घर वापस नहीं आए हैं। इसमें बच्चे भी शामिल हैं। इसी बीच जफराबाद इलाके में तीन और शव नाले में मिले हैं।

ये शव गोकुलपुरी इलाके में गुरुवार को मिले हैं। माना जा रहा है कि उन्हें मारने के बाद जलाया गया और उसके बाद उनके शव को फेंक गया। पुलिस मौका-ए-वारदात पर पहुंचकर मामले की जांच-पड़ताल में लग गई है। नाले में कहीं और शव तो नहीं हैं इसकी भी पड़ताल के लिए पुलिस ने गोताखोरों को लगाया है।

स्थानीय लोगों को गुरुवार की सुबह 7 बजे के आसपास जब कूड़े के ढेर में एक हाथ नजर आया तो वे सहम गए।  इसके बाद पूरे इलाके में हलचल मच गई। उसके बाद इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई।  फिलहाल लगभग 50 कर्मियों की पेट्रोलिंग टीम ने गोताखोरों को बुलाया। फिर शव को बाहर निकाला गया।

इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक, पेट्रोलिंग टीम के एक अधिकारी ने बताया, “गोताखोरों ने पहले शरीर को बाहर निकाला, जो गल गया था। हमें संदेह हुआ कि अंदर और भी शव हो सकते हैं। इसलिए गोताखोरों को फिर से भेजा गया। आधे घंटे के बाद एक और शव बाहर निकाला गया। पहला कचरे के पास पाया गया था, जबकि दूसरा नाले के अंदर गहराई में था।”

पुलिस ने बताया कि तीसरा शव सुबह 10 बजे के आसपास बरामद किया गया। आपको बता दें कि यह नाला ब्रजपुरी और मुस्तफाबाद से पूर्वोत्तर दिल्ली के अन्य क्षेत्रों में एक किलोमीटर की लंबाई में बहता है। और नाले के ऊपर छोटे-छोटे पुल हैं जो आवासीय कॉलोनियों को जोड़ते हैं। नाले के अंत में मुख्य सड़क गोकुलपुरी की ओर जाती है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “हमें पूर्वोत्तर दिल्ली में नालियों से चार शव मिले हैं। यह उन इलाकों के पास है जहां सोमवार और मंगलवार को हिंसा हुई थी। हमारे पास क्षेत्र में लापता व्यक्तियों की एक सूची है और लोगों की पहचान करना चाहते हैं। घरों और इमारतों की तलाशी के लिए स्थानीय पुलिस तैनात किए गए हैं। नालों की और जांच की जाएगी ताकि ये पता चल सकें कि वहां और शव तो नहीं हैं?”

गौरतलब है कि बुधवार को पुलिस और गोताखोरों ने इंटेलिजेंस ब्यूरो के कर्मचारी अंकित शर्मा के शव को जाफराबाद में एक नाले से बरामद की थी।  उनके हत्या का आरोप ताहिर हुसैन पर लगी है। ताहिर हुसैन आम आदमी पार्टी के पार्षद हैं। अंकित शर्मा के लापता होने के 12 घंटे से अधिक समय बाद उनका शव मिला था। पुलिस ने कहा कि गुरुवार को मिले तीन अज्ञात शव गल गए थे। शवों को जीटीबी अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

जीटीबी अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक ने बताया, “तीनों शवों को करीब 10.30 बजे लाया गया। शव को देखने से ऐसा लग रहा था कि नाले में फेंकने से पहले उनके ऊपर बुरी तरह हमला किया गया था। तीनों शव गल गए थे। ऐसा लगता है कि दो से तीन दिन पहले ही उन्हें मारकर फेंक दिया गया था। सिर, चेहरे और छाती पर चोट के निशान थे। कुछ शवों पर जलने के भी निशान थे। पोस्टमार्टम के बाद सबकुछ साफ हो जाएगा।”

You may also like