[gtranslate]
Country

दिल्ली दंगा मामला: हाईकोर्ट ने तन्हा की जमानत याचिका पर पुलिस से मांगा जवाब

नई दिल्ली। पिछले वर्ष हुए दिल्ली हिंसा से जुड़े मामले में आतंकवाद निरोधक कानून के तहत गिरफ्तार जामिया विश्वविद्यालय के छात्र आसिफ इकबाल तन्हा की जमानत याचिका पर उच्च न्यायालय ने एक फरवरी को पुलिस से जवाब मांगा है। पिछले वर्ष हुई हिंसा की साजिश में शामिल होने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने तन्हा के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया है।

जस्टिस सिद्धार्थ मृदुल और अनूप जे. भंभानी की पीठ ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी करते हुए तीन सप्ताह के भीतर जवाब देने को कहा है। इस मामले की अगली सुनवाई 12 मार्च को होगी। तन्हा ने निचली अदालत द्वारा 26 अक्टूबर 2020 को जमानत नहीं दिए जाने के आदेश को उच्च न्यायालय में चुनौती दी है। निचली अदालत ने यह कहते हुए तन्हा को जमानत देने से इनकार कर दिया था कि पहली नजर में दिल्ली हिंसा की साजिश में उसकी सक्रिय भूमिका रही है।

आसिफ इकबाल तन्हा की ओर से अधिवक्ता सिद्धार्थ अग्रवाल ने जमानत की मांग करते हुए कहा कि उनके मुवक्किल मई से जेल में बंद हैं। पुलिस ने अब तक मामले में आरोप पत्र भी दाखिल नहीं किए हैं। नगारिकता संशोधन कानून के विरोध को लेकर पिछले वर्ष उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में तकरीबन 53 लोगों की मौत हो गई थी, और 200 से अधिक लोग घायल भी हो गए।

You may also like

MERA DDDD DDD DD