Country

दिल्ली विधानसभा स्पीकर रामनिवास गोयल दोषी करार

नई दिल्ली। अदालत ने दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को एक बिल्डर के घर में जबरदस्ती घुसने के लिए दोषी ठहराया है। राउज एवेन्यू स्थित अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रट की अदालत ने स्पीकर गोयल सहित चार अन्य आरोपियों को दोषी माना है।

वर्ष 2015 के इस मामले में अदालत ने राम निवास गोयल को जबरदस्ती घर में प्रवेश करने के लिए दोषी ठहराया, जबकि सुमित गोयल, हितेश खन्ना, अतुल गुप्ता व बलबीर सिंह को मारपीट के लिए दोषी करार दिया गया। दोषियों की सजा पर अदालत में 18 अक्टूबर को जिरह होगी।

यह मामला छह फरवरी 2015 का है। आरोप है कि राम निवास गोयल और उनके समर्थकों ने विवेक विहार स्थित बिल्डर और नेता मनीष घई के घर पर चुनाव में बांटने के लिए शराब और कंबल के संदेह में छापेमारी की थी। घई ने आरोप लगाया था कि उनके साथ मारपीट की गई थी। इन आरोपों पर गोयल ने कहा था कि उन्होंने ही पहले पुलिस को इस बारे में काॅल करके सूचना दी थी। वह पुलिस के साथ ही घई के घर गए थे।

घई का आरोप था कि दोषियों ने उनके घर में अलमारी, ड्रायर, रसोई का सामान, खिड़कियां और शीशे तोड़ दिए थे। इसके अलावा घर में रह रहे मजदूरों के साथ हाथापाई की गई थी। पुलिस ने सितंबर 2017 में सात आरोपितों के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल कर कहा था कि घई को मजदूरों ने फोन कर बताया था कि कुछ लोग जबरन घर में घुस गए हैं और वहां तोडफोड़ कर रहे हैं।

You may also like