Country

क्राईम कैपिटल बनी दिल्ली, पार्क में गैंगरेप, चिल्लाती रही ‘भैय्या छोड दो’ 

दिल्ली में फिर एक बालिका बहशी दरिंदो का शिकार हुई है। दिल्ली के निर्भयाकांड को कोई नहीं भूल सकता है।  इसके बाद भले ही कई लोगों ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए आवाज़ उठाई हो, सरकार ने कई नियम बनाए हो, लेकिन इन सब के बावजूद भी महिलाओं के साथ होने वाली आपराधिक घटनाएँ कम होने का नाम नहीं ले रही है। इसके चलते ही दिल्ली को क्राईम कैपिटल कहा जाने लगा है। अब फिर कुछ दरिंदों ने 22 साल की युवती को अपना शिकार बनाया। युवती के साथ हुई वारदात और उसकी हालत के बारे में जानने के बाद किसी का भी मन सिहर जाएगा। मामला सराय काले खां बस अड्डे के पास स्थित इंद्रप्रस्थ पार्क का है।
जानकारी के अनुसार, बस अड्डे के पास इंद्रप्रस्थ पार्क में घूमने गई अकेली लड़की को देखकर घात लगाए आरोपियों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। माना जा रहा है कि लड़की के साथ दो से चार लोगों ने गैंगरेप किया। इससे लड़की बेहोश हो गई। यह भी माना जा रहा है कि आरोपी युवती को मरा हुआ समझकर छोडकर भाग गए। पीड़ित लड़की की आरोपियों ने पिटाई भी की है। उसके शरीर पर चोंट के निशान भी हैं।
सुबह जब कुछ लोग पार्क में सैर करने पहुंचे तो उन्हें बिना कपड़ों के बेहोशी की हालत में एक युवती दिखी। लोगों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। इसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया। युवती की हालत गंभीर बताई जा रही है। वह बहुत डरी हुई है।
उधर इस मामले में डॉक्टरों का कहना है कि ऐसा लग रहा है कि जैसे उन्हें गहरा सदमा लगा हो। बार-बार वह यही कह रही है कि मुझे छोड़ दो भैया….मुझे छोड़ दो। इतना बोलने के बाद वह बेहोश हो जाती है। पुलिस का कहना है कि लड़की की हालत बेहद नाजुक है, उसकी मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं है। जब उसकी हालत  में सुधार आयेगा तब उसके बयान लिए जाएँगे। अभी तक मामले में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं की गई है।

You may also like