[gtranslate]
Country

कांग्रेस का सवाल- ‘अगर पीएम मोदी को लगा था Covaxin का टीका, तो उन्हें अमेरिका जाने की अनुमति कैसे मिली?’ 

Covaxin

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के दौरे पर हैं। अमेरिका की अपनी यात्रा के दौरान प्रधान मंत्री संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे। इससे पहले उन्होंने अमेरिका और कुछ अन्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों और कंपनियों से भी मुलाकात की। लेकिन अब नरेंद्र मोदी के इस दौरे से सोशल मीडिया पर एक अलग ही चर्चा शुरू हो गई है। कोविड संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने भारत में बनी Covaxin वैक्सीन की दोनों खुराक ली थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा अभी तक वैक्सीन को पूरी तरह से मंजूरी नहीं मिली है। अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने भी इसे मंजूरी नहीं दी है।

नतीजतन, हजारों भारतीय वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के बाद भी विदेश नहीं जा पा रहे हैं। लेकिन सोशल मीडिया पर कई सवाल पूछे जा रहे हैं कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अमेरिका की यात्रा की इजाजत कैसे दी गई ? नरेंद्र मोदी ने 1 मार्च को नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक ली थी। मोदी ने भारत बायोटेक द्वारा बनाए गए Covaxin की दूसरी खुराक अप्रैल में ली थी। लोग उनके अमेरिका दौरे पर सवाल उठा रहे हैं क्योंकि प्रधानमंत्री द्वारा ली गई कोरोना वैक्सीन को मान्यता नहीं है।

इसी चर्चा में शामिल होते हुए मशहूर रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल के निर्माता निखिल अल्वा ने ट्वीट कर पूछा कि नरेंद्र मोदी ने कौन सी वैक्सीन ली है। फिर सोशल मीडिया पर चर्चा गरमा गई।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने टीकाकरण के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका में प्रवेश पर सवाल उठाया है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि अमेरिका ने वैक्सीन को अपनी सूची में शामिल नहीं किया है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यह वैक्सीन मिलने के बाद भी कैसे यात्रा का अधिकारमिल गया?

उन्होंने कहा, “अगर मुझे याद है, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने वो टीका लिया था, जिसे अमेरिका ने मंजूरी नहीं दी थी। या उन्होंने इसके अलावा कोई और टीका लिया है कि अमेरिकी प्रशासन ने उन्हें छूट दी है? देश यह जानना चाहता है।”

दिग्विजय सिंह के अलावा कांग्रेस की वरिष्ठ नेता मार्गरेट अल्वा के बेटे निखिल अल्वा ने भी इस मुद्दे पर सवाल उठाया है। उन्होंने खुद Covaxin का टीका लिया है। निखिल अल्वा ने कहा, “मेरे प्रधान मंत्री की तरह, मुझे स्व-प्रशासित Covaxin  टीका मिला है। अब मैं ईरान, नेपाल और कुछ अन्य देशों को छोड़कर दुनिया के अधिकांश हिस्सों की यात्रा नहीं कर सकता। लेकिन मुझे यह जानकर आश्चर्य हुआ कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अमेरिका जाने की इजाजत दी गई है, जबकि वहां Covaxin को मान्यता नहीं है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर उन्होंने कौन सी वैक्सीन ली?”

You may also like

MERA DDDD DDD DD