Country

कांग्रेस पस्त तो भाजपा एग्रेसिव ,हरियाणा में शाह ने की महारैली

जहां एक तरफ लोकसभा चुनावों में मिली करारी हार के सदमें से कांग्रेस अभी तक उबर नहीं पा रही है। भाजपा ने इस वर्ष तीन राज्यों -हरियाणा ,महाराष्ट्र ,झारखण्ड की विधानसभा के लिए प्रस्तावित चुनावों के लिए जबरदस्त मोर्चाबंदी शुरू कर डाली है। इसकी शुरूआत गृहमंत्री अमित शाह द्वारा आज हरियाणा के जींद में एकलव्य स्टेडियम में आयोजित विशाल रैली को संबोधित किया गया। उनके द्वारा आगामी विधानसभा चुनाव 2019 का शंखनाद किया गया साथ ही विरोधियों को ललकारते हुए मिशन 70 प्लस का लक्ष्य हासिल करने की प्रतिबद्धता भी जताई गयी। हरियाणा में अक्टूबर नवंबर में चुनाव होने है जिसके लिए बीजेपी पूरी तरह तैयारी करने में जुटी है।

अमित शाह से पहले रैली को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने संबोधित किया। रैली में मुख्यमंत्री के अलावा मंत्रिमंडल के सदस्य भी मौजूद रहे। चौधरी बीरेंद्र सिंह ने पगड़ी पहनाकर और लट्ठ भेंट करके केंद्रीय मंत्री का स्वागत किया। दरअसल, बीरेंद्र सिंह द्वारा ही इस विशाल रैली का आयोजन किया गया था।केंद्रीय मंत्री अमित शाह द्वारा इस रैली में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की गयी। मोदी सरकार 2 में गृहमंत्री बनने और जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद पहली बार अमित शाह हरियाणा ही आए हैं। ऐसे में रैली की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रही। अन्य जिलों से भी पुलिस टीम को बुलाया गया था।

अपने संबोधन में गृहमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में धारा 370 अखंड भारत की राह में रोड़ा थी। देश की एकता के लिए धारा 370 हटानी जरूरी थी। इसलिए हमनें 370 वोटों से अनुच्छेद 370 को हटाया। जो काम 70 साल में नहीं हो सकता, उसे 75 दिन में कर दिखाया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अब हमारा लक्ष्य हरियाणा में विधानसभा चुनाव जीतना है। यहां मिशन 75 पूरा करके विरोधियों को पस्त करना है। प्रदेश की जनता से मैं अपील करता हूं कि जैसे लोकसभा चुनाव में हमारा साथ दिया, उसी तरह विधानसभा चुनाव में दें तो हम जीत पाएंगे। गौरतलब है कि 90 सीटों वाले हरियाणा में विधानसभा चुनाव के लिए अमित शाह द्वारा कार्यकर्ताओं को 75 पार का टारगेट दिया गया है।

You may also like