[gtranslate]
Country

सरकार ने कॉमिक कैरेक्टर ‘चाचा चौधरी’ को बनाया नमामि गंगे का शुभंकर

कॉमिक कैरेक्टर चाचा चौधरी को केंद्र सरकार द्वारा नमामि गंगे कार्यक्रम का शुभंकर घोषित किया है। शुक्रवार, 1 अक्टूबर को केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने घोषणा की कि चाचा चौधरी को मिशन का शुभंकर नियुक्त किया गया है। इसके जरिए केंद्र का उद्देश्य बच्चों को नदी की सफाई के अभियान से जोड़ने और उन्हें जल की उपयोगिता से जागरूक कराना है।

गौरतलब है कि चाचा चौधरी लोकप्रिय कॉमिक बुक का एक चरित्र हैं। चाचा चौधरी को कार्टूनिस्ट प्राण कुमार शर्मा ने 1971 में बनाया था। कॉमिक की कई भारतीय भाषाओं में 10 मिलियन से अधिक प्रतियां बिकीं और बाद में इसे एक टेलीविजन श्रृंखला में भी पेश किया गया।

गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि “भारत में चाचा चौधरी को कौन नहीं जानता! एक कार्टून चरित्र जिसका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है। अब चाचा चौधरी नमामि गंगे के शुभंकर के रूप में नजर आएंगे। यह बच्चों को विशेष रूप से नदी स्वच्छता के अभियान से जोड़ने का एक व्यावहारिक प्रयास है”।

चाचा चौधरी से जुड़े कार्टून और एनिमेशन फिल्मों के जरिए जागरूकता फैलाई जाएगी। डायमंड बुक्स के साथ नमामि गंगे मिशन ने इसके तहत करार किया है।

क्या है नमामि गंगे मिशन ?

केंद्र सरकार के अनुसार नमामि गंगे न केवल गंगा नदी की सफाई का कार्यक्रम है, बल्कि यह लोगों में सामूहिक चेतना लाने का एक प्रयास है। यह पहल मिशन के लिए केंद्रीय और राज्य मंत्रालयों को एक सामान्य ‘टास्क फोर्स’ के तहत लाती है और एजेंसियों के बीच सहज समन्वय सुनिश्चित करती है। पिछले साल पीएम मोदी ने कार्यक्रम के तहत व्यापक कार्यों पर प्रकाश डाला था जिसका उद्देश्य गंगा को ‘अविरल’ और ‘निर्मल’ बनाना था। उन्होंने कहा था कि नमामि गंगे मिशन के तहत किए गए प्रयास न केवल इसकी स्वच्छता तक सीमित हैं, बल्कि इसे देश का सबसे बड़ा और सबसे व्यापक नदी संरक्षण कार्यक्रम भी बना दिया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 13 मई, 2015 को गंगा नदी और उसकी सहायक नदियों के संरक्षण के लिए नमामि गंगे परियोजना को मंजूरी दी थी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD