[gtranslate]
Country

सावधान ! पॉलिथीन का इस्तेमाल किया तो लगेगा जुर्माना

प्लास्टिक का उपयोग दुनिया में पर्यावरण के लिए एक बड़ा खतरा बना हुआ है। अब इसपर सभी देशों ने रणनीति बनानी शुरू कर दी है। भारत भी इस समस्या से अछूता नहीं है। भारत सरकार प्लास्टिक की थैलियों, प्लास्टिक की कटलरी और थर्मोकोल से बने कटोरे के उत्पादन और बिक्री को रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

इस प्रयास के तहत हरियाणा के अंबाला जिले में 1 नवंबर से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। अंबाला नगर निगम के सचिव ने कहा है कि पर्यावरण को साफ रखने के लिए 1 नवंबर से यहां एकल उपयोग प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। दुकानदारों से अपील की जाती है कि वे ग्राहकों तक सामान पहुंचाने के लिए पॉलिथीन बैग का इस्तेमाल न करें। उपभोक्ताओं से भी आग्रह किया जाता है कि वे पॉलीथिन बैग न लें। इसके अलावा अगर कोई नियम तोड़ता है, तो 500 रुपये से 5,000 रुपये तक वसूले जाएंगे। उल्लंघन करने पर पांच हजार तक जुर्माना लगाया जाएगा।

सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध

1 नवंबर से प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने के फैसले के बाद नगर निगम द्वारा शहर के मंदिरों और गुरुद्वारों में प्लास्टिक या थर्मोकोल प्लेट, कटोरे आदि का उपयोग नहीं करने पर एक सर्वेक्षण किया जा रहा है।  मंदिर और गुरुद्वारा समिति के अधिकारियों से उनके सुझाव लिए जा रहे हैं और उन्हें मनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। गाइडलाइन का पालन नहीं करने वाले धार्मिक स्थानों को भी नोटिस के साथ जुर्माना लगाया जाएगा। यह सर्वेक्षण स्वच्छ भारत मिशन टीम द्वारा राष्ट्रीय हरित अधिकरण के दिशानिर्देशों के अनुसार किया जा रहा है।

जुर्माने का भी प्रावधान

नगरपालिका सचिव ने कहा कि अगर कोई भी दुकानदार या ग्राहक प्लास्टिक या पॉलिथीन की थैलियों का उपयोग करता हुआ दिखाई देता है, तो उसे दंडित किया जाएगा। उस पर 500 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। नगर सचिव ने यह भी कहा कि लोगों में जागरूकता फैलाई जाएगी कि वे एकल प्लास्टिक का उपयोग न करें। पॉलिथीन और एकल उपयोग प्लास्टिक घातक हैं और देश के हर व्यक्ति को ये बात समझनी होगी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD