Country

ममता के किले में सेंधमारी

मां, माटी और मानुष का नारा देकर पश्चिम बंगाल में तीन दशकों से कायम वामपंथी शासन को दरकाने वाली ममता बनर्जी के किले में भी भाजपा सेंधमारी की तैयारी में जुट गई है। इस सियासी सेंधमारी की जिम्मेदारी ली है खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने। मिदनापुर में प्रधानमंत्री मोदी की दहाड़ को आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा की आक्रमकता के तौर पर देखा जा रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी की मिदनापुर रैली में भले ही भाजपा का टेंट गिर गया। कुछ लोग इस हादसे में घायल भी हुए। लेकिन बारिश के बीच वह अपने प्रतिरोध की बिजली चमकाने में कामयाब रहे। उनकी रैली में जुटी अप्रत्याशित भीड़ को कुछ लोग ममता बनर्जी के सिंहासन के लिए खतरा भी बता रहे हैं। पश्चिम बंगाल के लिए 2019 के लोकसभा चुनाव की अहमियत सिर्फ केंद्र की सत्ता तक ही नहीं सिमटी है। अलबत्ता इसकी तैयिरयों, रणनीति और नतीजे प्रदेश में कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों का भी मुस्तकबिल इससे तय हो जाएगा।

सोलह जुलाई को मिदनापुर रैली में प्रधानमंत्री ने वहां की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जबरदस्त ढंग से हमला बोला। मोदी ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल में सिंडिकेट शासन चला रहा है, यहां तुष्टिकरण की राजनीति की जा रही है। दशकों के वामपंथी शासन ने पश्चिम बंगाल को जिस हाल में पहुंचाया, आज इसकी हालत उससे भी बदतर हो गयी है। यहां कोई नई कंपनी खोलनी हो। नए अस्पताल और स्कूल क्यों न खोलना हो। बिना सिंडिकेट को चढ़ावा दिए, उसकी स्वीकøति लिए कुछ भी नहीं हो सकता है। बकौल मोदी, केंद्र में भाजपा की सरकार बनने के बाद हमारी सरकार ने किसानों को डेढ़ गुणा समर्थन मूल्य देने का फैसला लिया है। किसानों के लिए हमने इतना बड़ा फैसला किया है कि आज तृणमूल को भी इस सभा में हमारा स्वागत करने के लिए झंडे लगाने पड़े और उनको अपनी तस्वीरें लगानी पड़ी यह भाजपा की नहीं हमारे किसानों की जीत है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने 17 दिन पहले ही पुरुलिया जिले में जनसभा की थी। शाह ने अपनी रैली में इस बात का दावा किया कि उनकी पार्टी पश्चिम बंगाल में 42 लोकसभा सीटों में से 22 से अधिक पर जीत हासिल करेगी। असल में भाजपा ने इस प्रदेश में बहुत तेजी के साथ अपनी जडं़े जमाई हैं। भाजपा सूबे में मुख्य विपक्षी दल के रूप में उभरी है। हाल ही में हुए पंचायत चुनावों और उपचुनावों में भाजपा की ताकत पहले के बनिस्पत बढ़ी है।

भाजपा को ऐसा लग रहा है कि वह उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में पिछले बार 2014 वाली बढ़त बरकरार नहीं रख पाएगी। इसलिए अपनी बढ़त को बढ़ाने के लिए उसने निशाने पर कुछ राज्यों को रखा है उसमें पश्चिम बंगाल भी है। भाजपा को लगता है कि वह 2019 की लोकसभा चुनाव में बहुत अच्छा प्रदर्शन करने वाली है। भाजपा का मिशन बंगाली लोकसभा चुनाव तक ही सीमित नहीं है। वह इस प्रदेश से तृणमूल की प्रमुख ममता बनर्जी के शासन को भी उखाड़ फेंकने की मुहिम में जुटी है। मिशन बांगल के मद्देनजर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं में नया जोश-खरोश भरने के लिए केंद्रीय मंत्रियों नेताओं के दौरे में गति आई है। अमित शाह के बाद दो दिन सुरेश प्रभु कोलकाता में थे, उनके जाते ही अगले दिन पीयूष गोयल पहुंच गए। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के मुताबिक इस साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य के विभिन्न हिस्सों में कम से कम पांच रैलियों को संबोधित करेंगे। इस लिहाज से देखें तो शासन अब साल के बाकी महीनों में मोदी और अमित शाह सरीखे नेता कई दफा राज्य का दौरा करेंगे। भाजपा अध्यक्ष शाह अगस्त के प्रथम सप्ताह में एक बार फिर दो दिवसीय दौरे पर आ सकते हैं।

सोलह जुलाई को मिदनापुर में हुई प्रधानमंत्री की रैली के जवाब में अब सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस भी रैली कर अपनी शक्ति प्रदर्शन में जुट गई है। वह 21 जुलाई को शहीद रैली में करने जा रही है। इस रैली के निशाने पर प्रधानमंत्री मोदी ही रहेंगे। पार्टी की दलील है कि खुद भाजपा के शासन वाले महाराष्ट्र में किसानों की आत्महत्याएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं और मोदी यहां रैली के नाम पर किसानों का हितैषी बनने की कोशिश कर रहे हैं। किसानों की रैली महाराष्ट्र में होनी चाहिए थी। भाजपा यहां ममता बनर्जी के खिलाफ अफवाह फैलाने और धर्म के नाम पर लोगों को बांटने की राजनीति के तहत मोदी को ला रही है।

मेदनापुर जिले में बीते पंचायत चुनाव में मिली कामयाबी के आसरे अपनी जमीन और मजबूत करने के लिए ही मोदी को यहां ला रही है। कारण कि यह उसी मिशन बंगाल का आगाज है। इसमें कोई दो राय नहीं कि ममता बनर्जी सेल्फ मेड हैं। उन्होंने जिस दिलेरी से तीन दशकों से लगातार चल रहे वामपंथी शासन का खात्मा किया वह काबिलेतारीफ है लेकिन इस क्रम में वह उन्हीं खामियों का शिकार हो गईं जिनके खिलाफ उनका संघर्ष था। कहने का आशय यह कि माकपा का जो बदनाम कैडर था वह अब ममता बनर्जी के साथ है। स्थानीय लोगों का भी मनना है कि माकपा की वह तमाम बुराइयों जिनका कभी ममता बनर्जी विरोध करतीं उन्हें अब तृणमूल कांग्रेस ने आत्मसात कर लिया है। यह चीज पार्टी के साथ-साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी नुकसान पहुंचा रही है। ऐसे में जबकि मोदी-शाह के वह निशाने पर हैं और विपक्षी एकता की तरफ से राहुल, मायावती के बाद उनके नाम की भी चर्चा हो रही है, उससे ममता बनर्जी को सतर्क हो जाना चाहिए।

10 Comments
  1. 送貨時間 6 months ago
    Reply

    SEO網站優化

  2. 韓線 6 months ago
    Reply

    倩碧三步驟洗面皂,溫和潔淨,洗完不緊繃

  3. ETUDE HOUSE 【臉部保養系列】海蔘威~無齡跡彈力秘製眼膜的商品介紹 ETUDE HOUSE,臉部保養系列,海蔘威~無齡跡彈力秘製眼膜

  4. JUVEDERM由透明質酸Hyaluronic Acid(一種天然多醣體)製造而成,並具有幼滑及高凝聚力的配方。透明質酸(HA)是皮膚組織的主要成份之一,能自然存在於人體肌膚內 JUVEDERM所用的透明質酸非由動物身體提取,可鎖住水份保濕皮膚,從而增加皮膚密度並改善質感 Juvederm 玻尿酸 加強優化面部輪廓,可被身體完全吸引,能自然地修飾面部輪廓 功效可長達24個月以上 JUVEDERM的特點: 效果立即可見 非永久性 非手術性 安全有效 效果自然 JUVEDERM獲歐盟(CE)及美國及藥物管理局(FDA)認證 首先及唯一獲得FDA認證在首次療程後能維持長達一年2-4功效 新世代專員Hylacross科技為產品帶來獨特的物理特質,包括凝聚力、支撐力及柔順度 這是一套由全球著名醫學美容醫生Dr. Maurício de Maio,以JUVÉDERM®系列透明質酸產品為基礎而研發的面部優化療程,藉著簡單程序便達致面部優化效果,不需進行手術,減低風險。

  5. 無瑕 5 months ago
    Reply

    簡單三步驟,全方位改善痘痘肌

  6. Magic Lift 童顏再生療程 面部護理 – Dr. Slim 醫學修身纖體中心 人妻保養不偷懶

  7. 造型 5 months ago
    Reply

    CLINIQUE 倩碧線上購物官網。瀏覽Clinique倩碧官方網站,了解更多線上購物、護膚、彩粧、香氛及禮品詳情。通過過敏性測試,百分百不含香料。

  8. THE FACE SHOP 菲詩小舖 【眼部彩妝】眼影筆的商品介紹 THE FACE SHOP 菲詩小舖,眼部彩妝,眼影筆

  9. Robin van Persie has set his sights on ending Arsenal’s trophy drought after committing his long-term future to the club. The Holland international has signed a four-year contract. Robin van Persie desperately seeking silverware after signing new four-year deal at Arsenal

  10. MIKE KEEGAN AT TURF MOOR: As he made the short journey across the Dales from Harrogate to Turf Moor, Gareth Southgate may have had Bournemouth’s Callum Wilson on his mind. Aaron Lennon hoping to earn England recall as winger puts in another star showing in victory over Bournemouth

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like