[gtranslate]
Country

भाजपा की दिल्ली में नए प्रदेश अध्यक्ष की तलाश शुरू

हाल ही में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को करारी हार मिली। जिसके बाद से ही बीजेपी ने दिल्ली प्रदेश के नए अध्यक्ष की तलाश शुरू कर दी थी। बीजेपी विधानसभा चुनावों में 70 में से आठ सीटें ही जीत पाई थी। अब भारतीय जनता पार्टी ने नए अध्यक्ष चुनने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। जिसके बाद से ही पार्टी ने दो दिन पहले यानी 17-18 मार्च को सांसदों,विधायकों और अन्य पदाधिकारियों से राय मांगी थी।

बैठक भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव पी. मुरलीधर राव और महिला विंग की प्रमुख विजया रहाटकर की अध्यक्षता में हुई। बैठक में इन दोनों के अलावा पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद रहे। इस बैठक में नेताओं से दिल्ली का अगला अध्यक्ष किसे बनाना चाहिए इस पर सुझाव भी मांगा गया। अध्यक्ष पद के लिए सुझाए गए नामों में अनिल जैन, पवन शर्मा, आशीष सूद और महेश गिरि जैसे वरिष्ठ नेता शामिल थे।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि हर्षवर्धन वको छोड़कर अधिकांश सांसदों ने पद में रुचि दिखाई है, जिसमें परवेश साहिब सिंह, गौतम गंभीर, मीनाक्षी लेखी, विजय गोयल, रमेश बिदुरी और वर्तमान दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी शामिल हैं। राव और राहतकर राज्य के नेताओं की राय केंद्रीय नेतृत्व को सौंपेंगे, जो अगले सप्ताह तक एक नए प्रमुख की घोषणा करेंगे। भाजपा के एक सांसद ने कहा कि उन्हें कल 18 मार्च बुधवार को दीनदयाल अनुसंधान संस्थान में बुलाया गया और एक नाम सुझाने के लिए कहा गया। सांसद ने कहा, “मैंने उन्हें अगले विधानसभा चुनावों में 36 सीटें देने की क्षमता रखने वाले किसी व्यक्ति का चुनाव करने के लिए कहा है।”

अधिकांश नेताओं ने केंद्रीय पदाधिकारियों से कहा कि वे दिल्ली में मनोज तिवारी का आगे प्रयोग न करें और स्थानीय समुदाय को मौका दें। इस साल विधानसभा चुनावों में 70 में से आठ सीटें जीतने के बाद से ही वर्तमान दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी ने इस्तीफे की पेशकश की थी। हालांकि अगला प्रमुख नियुक्त किए जाने तक उन्हें पद पर बने रहने के लिए कहा गया है। वह नवंबर 2016 में इस पद पर नियुक्त किए गए थे। उनके अध्यक्ष रहते भाजपा ने 2017 एमसीडी चुनाव में बड़ी जीत हासिल की थी। पार्टी के कुछ सदस्यों ने सुझाव दिए है कि आगामी नागरिक निकाय चुनावों तक तिवारी को मौका दिया जाना चाहिए।

You may also like

MERA DDDD DDD DD