[gtranslate]
Country

बदायू कांड : पूजा करने गई महिला की गैंगरेप के बाद हत्या , प्राइवेट पार्ट में घुसाई रॉड 

 अभी लोग उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड को नहीं भूले है। इस कांड में जिस तरह पीड़िता की गैंगरेप के बाद हत्या की गयी और जीभ काटी गयी रीढ़ की हड्डी तोड़ी गयी वह इंसानियत को सर्मसार कर गया था। इसी तर्ज पर उत्तर प्रदेश के ही बदायू में एक कांड किया गया है। जहा एक 50 वर्षीय महिला के साथ हैवानियत की हदें पार कर दी गयी है।

यहां पूजा करने गई एक आंगनबाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। जिसके अनुसार महिला के  प्राइवेट पार्ट में रॉड जैसी कोई नुकीली चीज डालने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि गैंगरेप और हत्या के दौरान उसकी बाईं पसली, बायां पैर और बायां फेफड़ा भी वजनदार प्रहार से तोड़ दिया गया। इस प्रकरण में पुलिस ने आरोपी पुजारी समेत उसके एक शिष्य और ड्राइवर के खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस अभी आरोपियो को गिरफ्तार नहीं कर पाई हैं। इस मामले में बदायू के एसएसपी संकल्प शर्मा ने लापरवाही बरतने वाले थाना अध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह को निलंबित कर दिया है।

दिल को झकझोर कर देने वाली यह सनसनीखेज वारदात बदायू जिले के उघैती थाना क्षेत्र के एक गांव में घटी है। यहां की महिला पास के गांव स्थित एक मंदिर पर रोजाना की तरह पूजा करने गई थी। जहा उसके साथ दरिंदगी का खेल खेला गया। इस कांड में मंदिर का पुजारी शामिल बताया जा रहा है।देर रात मंदिर का पुजारी अपनी बोलेरो से पीड़िता की डेडबॉडी  घर के दरवाजे पर फेंककर चला गया। बताया जाता है कि इससे पहले आरोपी पुजारी उसे अपनी गाड़ी से इलाज के लिए चंदौसी भी ले गया था। लेकिन वहा जाने से पहले ही वह मौत के मुँह में समा चुकी थी।

महिला के प्राइवेट पार्ट से खून निकलता हुआ देख परिजनों ने गैंगरेप का आरोप लगाकर एफआईआर दर्ज करने की गुहार लगाई थी, लेकिन थाना अध्यक्ष ने मौत को एक हादसा बताया था।  थानाध्यक्ष के मुताबिक, महिला की मौत कुएं में गिरने से हुई थी।  लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कुएं में गिरने का कोई भी ऐसा सबूत नहीं मिला। इसके बाद अब एसएसपी संकल्प शर्मा ने निलंबन की कार्रवाई की है।

You may also like

MERA DDDD DDD DD