[gtranslate]
Country

मस्जिद के लिए इस जगह जमीन देने की घोषणा, राम मंदिर ट्रस्ट का भी ऐलान 

मस्जिद के लिए रौनाही में इस जगह जमीन देने की घोषणा, राम मंदिर ट्रस्ट का भी ऐलान

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के 9 नवंबर के फैसले के 88 दिन बाद राम मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट की घोषणा कर दी गई है। इस घोषणा के कुछ घंटे बाद ही यूपी कैबिनेट ने भी मस्जिद के लिए जमीन देने का ऐलान कर दिया। योगी सरकार ने मस्जिद निर्माण के लिए पांच एकड़ जमीन देने का ऐलान किया है।

मस्जिद के लिए जमीन रामलला विराजमान से 25 किलोमीटर दूर दी गई है। मस्जिद निर्माण के लिए जमीन अयोध्या के गांव रौनाही में सुन्नी वक्फ बोर्ड को दी गई है। मस्जिद निर्माण के लिए जमीन पंचकोसी परिक्रमा की परिधि से भी काफी दूर दी गई है। मस्जिद की जमीन जिला मुख्यालय से लगभग 18 किलोमीटर दूर है। यह जमीन कृषि विभाग की है। करीब 25 एकड़ जमीन यहां कृषि विभाग की है। जिस पर विभाग की तरफ से गेहूं की फसल उगाई जाती है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अध्यक्षता में आज यानी बुधवार को कैबिनेट बैठक हुई। बैठक में 18 प्रस्तावों को मंजूरी मिली है। कैबिनेट मंत्री और सरकार के प्रवक्ता सिदार्थ नाथ सिंह की ओर से बताया गया कि अयोध्या में सुन्नी वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन रौनाही में देने के के प्रस्ताव पर मुहर लगी है।

गौरतलब है कि 9 नवंबर, 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने 90 दिन के अंदर राम मंदिर के लिए ट्रस्ट बनाने और मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन देने का आदेश दिया था। केंद्रीय मंत्रिमंडल की बुधवार को हुई बैठक में राम मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट का ऐलान किया गया है। पीएम मोदी ने राम मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट का ऐलान किया।

उन्होंने कहा कि 67.03 एकड़ भूमि इस ट्रस्ट को दे दी जाएगी। साथ ही सुप्रीम कोर्ट के निर्देशन में राम मंदिर का निर्माण होगा। ट्रस्ट का नाम ‘श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट’ रखा गया है। उन्होंने आगे कहा कि कानून के तहत 67.07 एकड़ जमीन ट्रस्ट को हस्तांतरित की जाएगी। जिसमें भीतरी और बाहरी आंगन भी शामिल है।

उन्होंने यह भी कहा कि रामलला विराजमान की जमीन भी ट्रस्ट को मिलेगी। यह ट्रस्ट ही भव्य और दिव्य राम मंदिर निर्माण पर फैसला लेगा। गृहमंत्री अमित शाह ने बताया कि ट्रस्ट में 15 ट्रस्टी होंगे। जिसमें एक दलित समाज का सदस्य भी शामिल होगा। श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट का नोटिफिकेशन आज रात तक आ जाएगा। जिसमें सभी ट्रस्टी के नाम होंगे।

You may also like

MERA DDDD DDD DD