[gtranslate]
Country

अमित शाह ने राहुल गांधी से कहा, पार्लियामेंट में चर्चा करनी है तो आईए 1962 से आज तक करेंगे बात

अमित शाह ने राहुल गांधी से कहा, पार्लियामेंट में चर्चा करनी है तो आईए 1962 से आज तक करेंगे बात

एक तरफ जहां चीन के साथ तनाव जारी है, वहीं दूसरी तरफ इस मुद्दे पर कांग्रेस और बीजेपी के बीच भीषण लड़ाई जारी है। लद्दाख में एलएसी पर गालवान घाटी में चीन के साथ झड़प में 20 भारतीय सैनिकों की शहादत के बाद राजनीति भी जोरों पर है।

गाल्वन घाटी में झड़प पर भारत की प्रतिक्रिया के बारे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर लगातार सवाल उठाए। यहां तक कि राहुल गांधी ने ट्वीट कर सरेंडर मोदी कहा। इस पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि पार्लियामेंट होनी है, चर्चा करनी है तो आएंगे, करंगे। 1962 से आज तक दो-दो हाथ हो जाए।”

समाचार एजेंसी एएनआई के साथ एक इंटरव्यू में, अमित शाह ने कहा कि कोई भी चर्चा से डरता नहीं है। लेकिन जब देश के सैनिक संघर्ष कर रहे हैं, सरकार एक कदम उठाकर सही कदम उठा रही है, तो उस समय पाकिस्तान और चीन को खुश होना चाहिए। इस तरह के बयान सही नहीं हैं।

कोरोना और लद्दाख की गैलवन घाटी में चीन के साथ तनाव के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दोनों युद्ध जीतने जा रहा है। गृह मंत्री ने कहा कि भारत सरकार ने कोरोना के खिलाफ एक अच्छी लड़ाई लड़ी है। मैं राहुल गांधी को सलाह नहीं दे सकता, यह उनकी पार्टी के नेताओं का काम है। कुछ लोग ‘वक्रदंश’ हैं, वे सही चीजों में गलत भी देखते हैं। भारत ने कोरोना के खिलाफ अच्छा संघर्ष किया और हमारे आंकड़े दुनिया की तुलना में काफी बेहतर हैं।

दिल्ली में कोरोना की स्थिति पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि जून के दूसरे सप्ताह में, दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बयान दिया कि 31 जुलाई तक दिल्ली में 5.5 लाख कोरोना मामले होंगे, इससे बहुत डर हुआ दिल्ली के लोगों के बीच। दिल्ली सरकार ने कहा कि दिल्ली के बाहर के लोगों का दिल्ली में इलाज नहीं किया जाएगा पर केंद्र सरकार ने इस फैसले को बदल दिया।

You may also like

MERA DDDD DDD DD