[gtranslate]
Country

केजरीवाल ने की घोषणा, मजदूरों को देंगे 5000 रुपये हर्जाना

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए कंस्ट्रक्शन के कार्यों पर लगाई गई रोक को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मजदूरों की सहायता के लिए उन्हें 5-5 हजार रूपये देने की घोषणा की है। गौरतलब है कि लगातार वायु की खराब होती गुणवत्ता को देखते हुए केंद्र के वायु गुणवत्ता आयोग ने ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत केवल महत्वपूर निर्माण और विध्वंस छोड़ कर सभी परियोजनाओं पर रोक लगा दी थी।

केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि ”प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली भर में निर्माण गतिविधियों को रोक दिया गया है। मैंने श्रम मंत्री मनीष सिसोदिया को इस अवधि के दौरान प्रत्येक निर्माण श्रमिक को वित्तीय सहायता के रूप में पांच हज़ार रुपये प्रति माह देने का निर्देश दिया है।”

कंस्ट्रक्शन कार्यों पर लगाई रोक

वायु प्रदुषण में बढ़ते प्रदुषण को देखते हुए केंद्र सरकार ने 30 अक्टूबर को दिल्ली-एनसीआर में महत्वपूर्ण परियोजनाओं जैसे राष्ट्रीय सुरक्षा, रक्षा, रेलवे और मेट्रो समेत अन्य आवश्यक परियोजनाओं को इससे छूट होगी इनके अलावा सभी निर्माण कार्य व विध्वंश जैसी कई गतिविधियों पर रोक लगा दी गई थी। साथ ही दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में निर्माण और विध्वंस गतिविधियों पर लगाई गई पाबंदी पर नजर रखने के लिए 586 टीम गठित की हैं। जो यह सुनिश्चित करेगी की निर्णय का पालन किया जा रहा है या नहीं।

 

जहरीली हो गई है दिल्ली की हवा

 

दिवाली के दौरान पटाखों की आतिशबाजी के चलते दिल्ली के अधिकांश जगहों पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 400 से ऊपर नजर आ रहा है जो कि ‘गंभीर’ श्रेणी में आता है। आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली के पंजाबी बाग में करीब 424, शादीपुर में 457, अशोक विहार में लगभग 451, मुंडका 441, रोहिणी 455, जहांगीरपुरी 462 AQI रहा है । दिल्ली के साथ -साथ इसके आसपास के इलाकों में भी हवा में काफी जहर घुला हुआ है। दिल्ली एनसीआर नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम के अधिकांश इलाकों में भी AQI बढ़ता ही जा रहा है। जिसके कारण सरकार द्वारा कई कदम उठाये गए।

You may also like

MERA DDDD DDD DD