[gtranslate]
Country

24 घंटे की चुनौती, महाराष्ट्र में किसकी बनेगी सरकार 

बीजेपी के दिग्गज नेता नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री को लेकर चल रहे सस्पेंस को साफ किया है। गडकरी ने चुप्पी तोडते हुए कहा है कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद का दावेदार वही होगा जो गठबंधन चाहेगा। लेकिन महाराष्ट्र में चल रही सियासत के बीच अभी ये कहना मुश्किल है कि सीएम के दावेदार को लेकर आखिर कौनसा चेहरा है। इसकी कल्पना करना मुश्किल बना हुआ है। अब 24 घंटे की चुनौती है। देश की नजर महाराष्ट्र पर है कि आखिर सीएम कौन बनेगा । सरकार किसकी बनेगी।
गडकरी का बयान स्पष्ट कर रहा है कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री बीजेपी और शिवसेना मिलकर तय करेंगे। महाराष्ट्र में सरकार बनाने में 1 दिन शेष ओर रहा है। 9 नवबंर को सरकार का कार्यकाल खत्म होने जा रहा है। बीजेपी और शिव सेना के  बयानों के बाद सियासत में हलचल तेज हो गई है। वहीं 24 घंटे के भीतर सरकार के गठन में आ रही अटकलों को खत्म करना सबसे बड़ी चुनौती होगी।
महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ जारी सियासत की अटकलों के बीच शिवसेना ने पार्टी विधायकों के साथ बैठक की है। ठाकरे ने ये बैठक मतोश्री के नजदीक बांद्रा होटल में की। बैठक के दौरान शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने साफ कहा है कि उनकी पार्टी सीएम पद की मांग से पीछे नहीं हटेगी। शिवसेना ने बीजेपी को साफ संदेश दिया है। उद्धव ठाकरे ने कहा है कि मुख्यमंत्री पद से कम कुछ भी स्वीकार नहीं है।
शिवसेना की बैठक उस बीच हुई है जब कहा जा रहा था कि भाजपा उसके विधायकों की खरीद-परोख्त करने के प्रयास में लगी है। शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने विधायकों को ये संदेश उस समय दिया है, जब भाजपा राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से मिलने जा रही थी।

You may also like