[gtranslate]

भारत के लिए आज का दिन बेहद खास  है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) अंतरिक्ष में इतिहास रचने से बस अब चंद घंटे ही दूर है। इसरो के मिशन चंद्रयान-2 (Chandrayaan 2) को लेकर ‘बाहुबली’ रॉकेट दोपहर दो बजकर 43 मिनट पर सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से उड़ान भरेगा। इस रॉकेट को स्थानीय मीडिया से ‘बाहुबली’ नाम दिया गया है। इसके लिए रविवार शाम छह बजकर 43 मिनट पर उल्टी गिनती शुरू हो गई थी।  640 टन वजनी रॉकेट की लागत 375 करोड़ रुपये है।  इसरो के प्रमुख के सिवन द्वारा कहा गया कि “मिशन चंद्रयान-2 पूरी तरह से कामयाब सबित होगा और चंद्रमा पर नई चीजों की खोज करने में भी सफल होगा”। लोगो में इसे लेकर काफी उत्साह है जिसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है की लॉन्च देखने के लिए देशभर से हजारों लोग श्रीहरिकोटा पहुंच रहे हैं। इसरो के अधिकारी द्वारा बताया गया की  रॉकेट के प्रक्षेपण को देखने के लिए कुल 7,500 लोगों ने  ऑनलाइन पंजीकरण कराया है। इसरो ने हाल ही इसरो द्वारा लॉन्च को देखने के लिए आम जनता को  भी अनुमति दी गयी  है । इसरो द्वारा लगभग 10 हजार लोगों की क्षमता वाली एक गैलरी  भी बनाई है। गैलरी की क्षमता हालांकि करीब 10,000 लोगों की है, इसरो की योजना  है की इसकी संख्या धीरे-धीरे बढ़ाई जाएगी।

You may also like

MERA DDDD DDD DD