[gtranslate]
Country

राम मंदिर के नाम पर जबरन धन वसूली,यू.पी में सामने आये मामले

राम जन्म भूमि मंदिर की ऐतिहासिक सच्चाई से अवगत कराने के लिए देश के प्रत्येक राज्य के कोने-कोने में घर-घर जाकर संघ ने लोगों से संपर्क करने का ऐलान किया था ।अब  इस अभियान के तहत अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, अंडमान-निकोबार, रण कच्छ, त्रिपुरा में लोगों को ऐतिहासिक सच्चाई से रूबरू कराया जाएगा। इसके लिए लाखों कार्यकर्ता गांव और मोहल्लों में जाएंगे। इस दौरान लोग स्वेच्छा से कुछ न कुछ निधि  समर्पित करेंगे। इसकी पारदर्शिता बनाए रखने के लिए 10 रुपये, सौ रुपए और 1000 रुपये के कूपन और रसीद बनाए गए हैं। लेकिन इस कड़ी में अभी जो घटना हुई हैं इसको क्या माना जायेगा | क्या कुछ नेता राम मंदिर के नाम पर जबरन वसूली करेंगे | ऐसी ही  एक घटना का जिक्र हम यहाँ कर रहे हैं|   घटना यूपी के मुरादाबाद कि हैं जहाँ  राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह के अभियान के नाम पर जबरन वसूली का मामला सामने आया है|  आरोप है कि राम मंदिर के लिए चंदा इकट्ठा करने के नाम पर नर्सिंग होम के डॉक्टर से जबरदस्ती पैसा मांगा गया और उन्हें धमकाया गया. धन संग्रह करने वाली टीम की बदतमीजी का ये वीडियो वायरल हो गया है. चंदे के लिए धमकाने का आरोप स्थानीय पार्षद और बीजेपी के नेताओं पर लगा है.|

मुरादाबाद के आशियाना कॉलोनी स्थित सुपर मैक्स नर्सिंग के मालिक डॉक्टर एस के सिंह ने बताया कि  शनिवार के  दिन  बीजेपी के कुछ स्थानीय नेता और पार्षद राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा लेने आये थे|  लोग चंदे में 51 हजार की मोटी धन राशी मांग रहे थे | जब हमने ये राशि देने में असमर्थता जताई, तो वह धमकी देने लगे.| बीजेपी नेताओं ने धमकी दी कि वे यहां रहने नहीं देंगे. डॉक्टर ने बताया कि जब मैंने पुलिस बुलाने की बात की तो वह भड़क गये और उन्होंने संघ से जुड़े बड़े नेताओं को बुला लिया.| जिसके बाद मामले को रफा दफा किया गया  लेकिन  अस्पताल में मौजूद किसी ने घटना के हंगामे का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया.| इस वीडियो में धन संग्रह करने वाले लोग डॉक्टर को धमकी देते हुए साफ नजर आ रहे है|  बता दें कि अब तक मुरादाबाद में बीजेपी और संघ से जुड़े लोगों पर राम मंदिर के नाम पर अवैध रूप से चंदा उगाही के आरोप में केस दर्ज हो चुके हैं. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

जिले में अवैध रूप से चंदा वसूली की शिकायत लगातार  मिल  रही हैं | 25 दिसंबर को मझोला थाने में भाजपा के जिलाध्यक्ष राजपाल चौहान ने एक व्यक्ति के खिलाफ रसीद पर उनका और कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र चौधरी का फोटो छपवाकर राम मंदिर के नाम पर चंदा लेने का केस दर्ज कराया था।

इसी तरह का एक और मामला शनिवार को मुरादाबाद में सामने आया था । जिसमें श्रीराम निर्माण निधि समर्पण समिति मुरादाबाद के अध्यक्ष ने थाना सिविल लाइंस में चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया है। कुछ लोग  फर्जी रसीद बनाकर चंदा वसूल रहे थे |

You may also like

MERA DDDD DDD DD