[gtranslate]
Country

पहले ‘भैया इज बैक’ अब ‘बैक टू जेल’

मध्य प्रदेश में एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है। यहां के जबलपुर में एक रेप आरोपी को कोर्ट से जब जमानत मिली तो उसके समर्थकों ने खुशी में पूरे इलाके में ‘भैया इज बैक’ और “वेलकम टू रोल जानेमन” के पोस्टर लगवा दिए। इस तरह रेप आरोपी छात्र नेता की घर वापसी को लेकर उनके समर्थक जश्न मना रहे थे। लेकिन अब यहीं जश्न मनाना ‘भैया जी’ को महंगा पड़ गया है। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने ‘भैया इज बैक’ वाले पोस्टर लगने के बाद रेप आरोपी छात्र नेता की जमानत को खारिज कर दिया। यही नहीं बल्कि रेप आरोपी की जमानत पर इस कदर जश्न मनाने को सुप्रीम कोर्ट ने बेशर्मी का आचरण बताया और कहा कि भैया जी को एक हफ्ते के अंदर जेल में सरेंडर करना होगा।

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना, जस्टिस कृष्ण मुरारी और हेमा कोहली की पीठ ने इस मामले पर कहा कि पोस्टरों पर कैप्शन, मुकुट और दिल के इमोजी के प्रचुर उपयोग के साथ, समाज में अभियुक्तों की शक्ति का संकेत देता है। इससे भय पैदा होता है। शिकायतकर्ता के मन में डर पैदा हो गया था कि उसकी निष्पक्ष सुनवाई नहीं होगी। सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि आरोपी के होर्डिंग लगाने और सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीरों को टैग किए गए कैप्शन समाज में बलात्कार के आरोपियों को बढ़ावा देंगे। इससे अपीलकर्ता-शिकायतकर्ता पर इसके हानिकारक प्रभाव पड़ेंगे।

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट इस मामले पर आरोपी को नवंबर 2021 में जमानत दे दी थी। इसके बाद शिकायतकर्ता महिला ने सुप्रीम कोर्ट में एक अपील दायर की। जिसमें उन्होंने कहा कि जमानत पर रिहा होने के बाद आरोपी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर कैसे दिखाई दीं। तस्वीरों में कुछ पोस्टर और उनमें कुछ प्रभावशाली लोगों के चेहरों के साथ आरोपी के फोटो लगे थे। आरोपी का स्वागत “भैया इज बैक”, “बैक टू भैया” और “वेलकम टू रोल जानेमन” जैसे शीर्षक के साथ किया गया था।

यह मामला उस समय प्रकाश में आया जब आरोपी ने अपने साथ ही पढ़ने वाली एक छात्रा से शादी का झांसा देकर तीन साल तक उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। आरोपी ने छात्रा के माथे पर सिंदूर लगाया था और एक निजी समारोह में मंगलसूत्र तक बांधा था। इसके बाद आरोपी ने उसे सार्वजनिक रूप से स्वीकार करने से इनकार कर दिया। आरोप यह भी था कि जब वह गर्भवती हुई तो उसका जबरन गर्भपात कराया गया। उसके बाद आरोपी उस छात्रा से बचने लगा और उसके फोन तक उठाने बंद कर दिए। बाद में उसने शादी को ही मानने से इंकार कर दिया। इसके बाद छात्रा ने अपने साथ रेप होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने बलात्कार का मामला दर्ज किया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। 2 माह तक जेल में रहने के बाद उसकी जमानत हो गई।

You may also like

MERA DDDD DDD DD