fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 31 20-01-2018
 
rktk [kcj  
 
सुर्खियां जो नहीं बनीं
 
फेस ऑफ फ्रेंडशिप

गुजरात दंगा २००२ को शायद ही कोई भुला पाया होगा। कोई भूलने की कोशिश भी करता है तो राजनीतिक दल भूलने नहीं देते। दंगे के दौरान मीडिया में दो तस्वीरें बहुत चर्चित हुई थी। एक फोटो अशोक परमार तो दूसरा कुतुबुद्दीन अंसारी का था। पहला खौफ का प्रतीक तो दूसरा लाचारी का। एक के हाथ में लोहे की रॉड] सिर पर भगवा कपड़ा बंधा था और बेहद उग्र रूप में था। दूसरा आंखों में आंसू भरकर याचना कर रहा था। एक फेस ऑफ टेरर कहलाया तो दूसरा फेस ऑफ रॉयटस। पर अब ये पहचान बदल चुकी है। अब दोनों फेस ऑफ फ्रेंडशिप कहलाते हैं। कुतुबुद्दीन कहते हैं कि हमारे बीच इंसानियत का नाता है। हम मित्र हैं] ये किसी से कहते नहीं हैं। राजनीति की बात निकलने पर कुतुबुद्दीन कहते हैं] ^लाभ उठाना होता तो मैं राजनीति में ही चला जाता।^ राजनीति की बात करने पर अशोक चिंतित हो जाते हैं। अशोक कहता है] ^कुतुबभाई को मैं अपने बड़े भाई से भी ज्यादा सम्मान देता हूं।^

दूसरे का जीवन बचाने में जुटे

मध्य प्रदेश के बिलासपुर निवासी रविंद्र क्षेत्री अपने छोटे भाई की असमय मौत से काफी आहत हुए। पर वे हाथ पर हाथ धर कर बैठे नहीं। अब वे सैकड़ों लोगों का जीवन बचाने में जुटे हैं। सड़क हादसे के शिकार या गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोगों की हर हालत में मदद करते हैं। द्घायल को अस्पताल में भर्ती करने से ठीक होने तक उसका साथ देते हैं। उनके प्रयासों से महज दो साल में सोशल मीडिया के जरिए देश के १५ राज्यों के करीब ४० शहरों और विदेशों (दुबई] कैलिफोर्निया टोरंटो आदि) से करीब ४३ हजार वालंटियर्स की टीम खड़ी हो गई है। टीम में डॉक्टर] पत्रकार] समाजसेवी जुड़े हैं। रविंद्र ने इसके लिए एक मोबाइल एप भी बनाया है] जिसका चयन देश भर के ६ हजार स्टार्टअप प्रोजेक्ट में हो चुका है। रविंद्र के छोटे भाई सुमित को टकायासू हार्टराइटिस नामक बीमारी थी जो दस लाख में से एक को होती है। उसके इलाज के लिए रविंद्र को नौकरी तक छोड़नी पड़ी। लेकिन १६ फरवरी २०१५ को सुमित की मौत हो गई। उसकी याद में रविंद्र ने सुमित फाउंडेशन की स्थापना की। इसका उद्देश्य ऐसे लोगों की मदद करनी है जो सरकारी प्रक्रिया] अज्ञानता और आर्थिक कारणों से इलाज नहीं करा पाते। इनकी टीम इलाज के लिए आर्थिक मदद तो करती ही है। साथ में जिलाधिकारी] राज्य सरकार और पीएमओ तक पत्र भेजने में भी मदद करती है। रविंद्र चाहते हैं कि अस्पताल खोलकर लोगों की मदद करें।

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 71%
uk & 16%
 
 
fiNyk vad

  • अपूव जोशी

१९८० के मध्य से ही मुस्लिम समाज में गर्भनिरोधक तकनीकों के प्रति जागरूकता हिंदू समाज की बनिस्पत ज्यादा तेजी से बढ़ी है। एक और महत्वपूर्ण बात

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1996952
ckj