fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 26 16-12-2017
 
rktk [kcj  
 
आवरण&कथा&3
 
त्रिवेंद्र के ?kj में भी जारी खेल

  • जसपाल नेगी

माफिया खूबसूरत सतपुली घाटी की तबाह कर रहा है। लेकिन स्थानीय प्रशासन dqyd.khZ नींद सोया हुआ है

प्राकृतिक संसांधनों से भरपूर पौड़ी&गढ़वाल की सतपुली ?kkVh इन दिनों बर्बादी की कगार पर खड़ी है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के गृह क्षेत्र सतपुली खैरासैंड में मानकों को ताक पर रख न केवल अवैध क्रेशर प्लांट संचालित हो रहा है] बल्कि क्रशर प्लांट के लिए खनन सामग्री जुटाने नयार ?kkVh में रात को जेसीबी से अवैध खनन भी किया जा रहा है। दूसरी तरफ प्रशासन चैन की नींद सो रहा है। मुख्यमंत्री के गृहक्षेत्र में हो रहा यह अवैध खनन कारोबार शासन-प्रशासन पर गंभीर सवाल खड़े कर रहा है। क्रशर प्लांट] क्रशर प्लांट के लिए तय किये गए लगभग सभी मानकों जिसमें हरित पट्टिका] पानी का छिड़काव] सीसीटीवी कैमरे का लगा होना] खनन सामग्री का भार करने की व्यवस्था होना आदि का भी मजाक उड़ा रहा है] जो इस ओर इशारा करता है कि क्रशर प्लांट को अवैध खनन कारोबार की खुली छूट मिली हुई है। पूरी ?kkVh में नयार नदी में जिस तरह अवैध खनन हो रहा है उससे खेती बजंर हो रही है और कम समय में अधिक मुनाफे के लिए प्राकृतिक ससांधनों की लूट ने ?kkVh को तहस-नहस कर दिया है। 

?kkVh की सुंदरता दिन प्रति दिन होने से यहां के लोगों की चिंता बढ़ गई है। एकदम मैदानी इलाके जैसी लगने वाली नयार नदी के दोनों ओर बसी ये ?kkVh बहुत खूबसूरत है। लेकिन बीते कुछ सालों से ?kkVh की सुंदरता पर जैसे किसी की नजर लग गई है। ?kkVh में प्राकृतिक ससांधन के भरमार है। मिश्रित जगंल] जगंल में हर तरह के जानवर] नदी के खूबसूरत बहाव के बीच जलीय जीवों की अठखेलियां] बर्फ सी सफेदी लिए हुए झरने ये सभी तस्वीरें इसी ?kkVh की हैं लेकिन ?kkVh के इस ईको सिस्टम पर अब खनन माफियाओं का काला कारोबार भारी पड़ रहा है। जिला मुख्यालय से दूर होने के कारण इस ?kkVh में प्रशासन की संलिप्तता से खनन का बड़ा कारोबार चल रहा है। सुबह होते ही नदी के पानी मे बडे़-बडे़ ट्रक ट्रोलियां टैक्टर देखे जा सकते हैं और खनन के इस बड़े कारोबार मे ग्रामीणों का विरोध न झेलना पड़े इसके लिए कमजोर तबके के ग्रामीणों को कम समय मे अच्छी मजदूरी देकर साथ लेकर काम किया जा रहा है जिससे ग्रामीण भी खेती को छोड़कर इस कारोबार से जुड़ रहे हैं। कमजोर तबका खनन के कारोबार में ही ज्यादा मुनाफा देखकर खनन के बड़े कारोबारियों का साथ दे रहे हैं। 

हालांकि ?kkVh में बुजुर्ग एवं महिलाएं जिन्होंने कई दशकों को ?kkVh को बदलते हुए देखा है वे आज दुख जताते हुए कहते हैं कि यहां का पर्यावरण साल दर साल बदल रहा है और ?kkVh मे प्राकूतिक ससांधनों की लूट ने पूरे ईको सिस्टम को खराब कर दिया है। नयार नदी के धार्मिक महत्व भी हैं दूधातोली पर्वत से निकलने वाली दूध की धारा सी पवित्र इस नदी को पुराणों में नारदगंगा भी कहा जाता है जो देवप्रयाग के पास व्यास चट्टी मे गंगा से मिलती है। जिस पर प्रशासन की कोई नजर नहीं है। हालांकि अधिकारी अपने रटे रटाये जवाब दे रहे हैं और ?kkVh में चल रहे अवैध खनन को रोकने के आश्वासन दे रहे हैं। खनन से हो रही पर्वावरणीय क्षति न केवल इस ?kkVh की समस्या है बल्कि उत्तराखण्ड की वर्तमान सरकार खनन के काले कारोबार से विपक्ष के निशाने पर शुरू से है लेकिन फिर भी प्रदेश मे खनन के काले कारोबार पर कोई अकुंश नहीं लग पाया है और प्रदेश मे अवैध खनन किस तरह से आम जनमानस को नुकसान पहुंचा रहा है एक बार फिर सतपुली ?kkVh की तस्वीरें बयां कर रही हैं खनन के माफियाओं के आगे प्रशासन भी बौना सबित हो रहा है खुले आम जारी खनन से स्पष्ठ है कि भ्रष्टाचार का यह खेल प्रशासन की शह पर ही है। सरे आम खनन कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। राजस्व विभाग व वन विभाग कुभंकरण की नींद में साये हुए हैं। इससे सरकार को लाखों के राजस्व का नुकसान हो रहा है। 

गौरतलब है कि एक तरफ सरकार द्वारा गंगा को बचाने की मुहिम छेड़ी जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ पट्टाधारक नियमों की धज्जिया उड़ाने से बाज नहीं आ रहे। पट्टाधारक तय सीमा से बाहर जाकर अवैध खनन कर कई ट्रक रेत लेके जा रहे हैं जिस पर जिला प्रशासन भी तमाशबीन बना हुआ है। प्रशासन की तरफ से कोई भी कार्यवाही न होने से पट्टाधारकों के हौसले और बुलंद हो गये हैं। पट्टाधारक अलकनंदा नदी के बीच में जाकर अवैध खनन को अजाम दे रहे हैं। जिससे अलकनंदा नदी का अस्तित्व खतरे में आ गया है। इतना ही नहीं हेमवती नंदन बहुगुणा चौरास परिसर को जाने वाले पुल के नीचे भी अवैध खनन जारी है। श्रीकोट के ग्रामीणों ने कई बार प्रशासन को तय सीमा से बाहर हो रहे अवैध खनन से अवगत भी कराया था। परंतु प्रशासन ने कार्यवाही के नाम पर सिर्फ आश्वासन ही दिया। अवैध एवं अनियंत्रित खनन किये जाने से बरसात में नदियों के किनारे बसे गांवों के ऊपर बाढ़ के खतरे की आशंका और बढ़ गयी है। माननीय उच्च न्यायालय के द्वारा खनन एवं चुगान पर प्रतिबंध लगाया हुआ है लेकिन न्यायालय के प्रतिबंध के बाद भी ट्रकों के माध्यम से नदियों से रेत] बजरी एवं पत्थरों की चोरी की जा रही है। एैसा नहीं है कि जिला प्रशासन व वन विभाग को खनन के इस खेल की जानकारी न हो। जिला प्रशासन खनन माफियाओं पर लगाम लगाने में बेबस नजर आ रहा है। जिससे माफियाओं के हौसले बुलंद हैं। खनन के इस खेल से प्राकृतिक आपदा के आशंकाए भी बढ़ चुकी हैं इसके बावजूद जनपद में खनन का खेल पूर्व की भांति उसी गति से चल रहा है।

 

 

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 71%
uk & 15%
 
 
fiNyk vad

 

  • सिराज माही

 

गुजरात विधानसभा चुनाव के बस कुछ ही दिन शेष रह गए हैं। भारतीय जनता पार्टी इस चुनाव में आपनी साख बचाने की कोशिश कर रही है तो देश में अपनी

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1948055
ckj