fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 26 16-12-2017
 
rktk [kcj  
 
आईना  
 
डीजल में वैट से छूट की मांग

कुमाऊं&गढ़वाल चेंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष विकास जिंदल ने वित्त मंत्री प्रकाश पंत को पत्र भेजकर उद्यागों के लिए खरीदे जाने वाले डीजल पर सीमावर्ती यूपी की तर्ज पर वैट की किफायती दरों का प्रावधान करने की मांग की है। केजीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा कि जीएसटी लागू होने से पहले उत्तराखण्ड में भी डीजल पर वैट की छूट का प्रावधान था। लेकिन जीएसटी लागू होने के बाद उसमें छूट की स्थिति स्पष्ट नहीं है।

चेंबर अध्यक्ष ने कहा कि राज्य में बिजली की कमी] लो वोल्टेज तथा अनियमित विद्युत सप्लाई से उद्योगों में उत्पादन प्रभावित होता है। इससे बचने के लिए तमाम उद्योगों को उत्पादन सुचारू रखने के लिए जनरेटर का सहारा लेना पड़ता है। लेकिन जनरेटर में डीजल की खपत अत्यधिक होने से आर्थिक बोझ पड़ रहा है। इससे जहां तैयार उत्पाद की कीमत बढ़ जाती है] वहीं इसका असर बाजार भाव पर भी पड़ता है। नतीजतन इसका बोझ आम उपभोक्ता पर पड़ रहा है। केजीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा कि चूंकि पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी से अलग रखा गया है। अतः देश के विभिन्न राज्यों द्वारा औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने तथा तैयार उत्पाद की कीमतों पर अंकुश रखने के उद्देश्य से डीजल पर वैट की रियायती दरों का प्रावधान किया गया है। नतीजतन उन राज्यों में उद्योगों के उत्तराखण्ड से अपेक्षाकूत कम मूल्य पर डीजल उपलब्ध हो रहा है। जिंदल ने राज्य के औद्योगिक विकास को गति देने के उद्देश्य से उद्योगों द्वारा फार्म&११ के विरुद्ध वैट की रियायती दरों पर डीजल खरीद सुनिश्चित करने के लिए शासन से जल्द शासना देश जारी करने की मांग की है। केजीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष अशोक बंसल ने कहा कि उत्तराखण्ड में डीजल पर वैट की छूट नहीं होने से राज्य में नए उद्योग स्थापित होने से कतरा रहे हैं।

उत्तराखण्ड का युवा एनडीए टॉपर

उत्तराखण्ड की युवा प्रतिभा शिवांश जोशी ने बिना किसी कोचिंग के राष्ट्रीय रक्षा अकादमी ¼एनडीए½ की प्रवेश परीक्षा और साक्षात्कार में टॉप किया है। उन्हें देशभर से चयनित ३७१ युवाओं में यह सम्मान हासिल हुआ। रामनगर के शिवांश जोशी ने ९७ प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। उन्होंने इसी साल लिटिल स्कॉलर स्कूल से १२वीं की परीक्षा ९६.८ फीसदी अंकों से उत्तीर्ण की थी। भारतीय जीवन बीमा निगम के हल्द्वानी मंडल कार्यालय में सहायक प्रशासनिक अधिकारी संजीव जोशी और चिल्किया प्राथमिक विद्यालय में अध्यापक तनुजा जोशी के बेटे शिवांश ¼१७½ का बचपन से ही सेना में जाने का सपना था। शिवांश का चयन एनआईटी त्रिचिनापल्ली ¼तमिलनाडु½ के लिए भी हुआ था] लेकिन फौज में जाने की इच्छा के चलते वे वहां नहीं गए।

गैरसैंण पर गर्माहट

प्रदेश सरकार गैरसैंण में विधानसभा सत्र की तैयारियों में जुटी हुई है और दूसरी तरफ विपक्ष एवं आंदोलनकारी संगठन सरकार को ?ksjus के मूड में दिखाई दे रही है। बहुत संभव है कि कांग्रेस गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाने के साथ ही लोकायुक्त और तबादला विधेयक जैसे मसलों पर सरकार को असहज करने की रणनीति में रहेगी। विपक्षी कांग्रेस के साथ ही सत्ता पक्ष के सदस्यों के सवालों से भी सरकार को जूझना पड़ सकता है। राज्य के आंदोलनकारी संगठन भी सरकार पर गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाने का दबाव डाल रहे हैं। जबकि सरकार की मंशा इसे ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की है। चिह्नित राज्य आंदोलनकारियों को १० प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण] उचित पेंशन] आंदोलनकारियों का चिह्नीकरण जैसे मुद्दों को लेकर आंदोलनकारी संगठन भी सरकार का
?ksjko कर सकते हैं।


ट्वीटर

Sanjay Singh AAP @SanjayAzadSln

देखिए] पहले ताज महल तोड़ रहे थे] अब  हाथ तोड़ देंगे] तोड़ने से नहीं जोड़ने से हिंदुस्तान आगे बढ़ेगा] भाइयो&बहनों।


Jyoti Singh xquxqu @SinghJyoti155

जोड़ने से बात नहीं बनती तो तोड़ना ही पड़ता है।


Dr.Mashroom Ki ykBh @ki_janta

हां तो तोड़ थोडे़ ही रहे हैं बोल रहे हैं सिर्फ और अभिव्यक्ति की आजादी है जैसे कभी कन्हैया कुमार को थी।


Madhuri (Dwarka) @madhuridwarka

इतनी ही हिम्मत है तो देश के दुश्मनों के हाथ तोड़ो] जिनकी वजह से रोज जवान बॉर्डर पर मर रहे हैं।

ASHUTOSH KUMAR JHA 

@AKJhaTeacherMuz

हां सर मफलर से कान बांध लेने से विकास नहीं] बल्कि आम जनता के बातों को कान खोलकर सुनने से विकास होता है! क्या समझे? ध्यान से बताइएगा उन्हें।


Bhagat S. Koshyari @BSKoshyari

जमरानी बांध निर्माण % मेरा संकल्प


 Singh @AeRamesh

स्थाई राजधानी गैरसैंण के लिए अगर हमारे नेताओं ने संकल्प लिया होता तो आज पहाड़ों की दशा&दिशा कुछ और होती।


Rajendra Singh Bisht @Rajendr55280096 

सर] आप मदन सिंह महराणा जी के साथ हमारे गांव के जयचाम निर्माणसी मंदिर में पैदल आए मुझे और मेरे ग्रामीणों को बहुत खुशी हुई। आपने रोड पहुंचाने का वादा किया था रोडघ्१ किमी कटी भी लेकिन राजनीति की शिकार हो गई। आज ७ गांव खाली हो गई] रोड अभी तक आगे नहीं बढ़ी।


फेस बुक

हरीश रावत % मोदी जी] जब गुजरात में पाटीदारों पर लाठियां भांजी जा रही थीं और उना में दलितों को निर्मम तरीके से पीटा जा रहा था] गुजरात की जनता आपसे जानना चाहती है कि आप तब क्यों नहीं आए

प्रदीप बिष्ट % ये आप गुजरात की जनता की तरफ से बोल रहे हैं क्या? सभी गुजराती मोदी से प्रेम करते हैं न कि देशद्रोही] हिंदू विरोधी] भ्रष्ट लोगों और आईएसआई के एजेंट।

सदीप संडे बाबा % आपसे ये उम्मीद नहीं थी हरीश जी] दलित क्या होता है वो इंसान नहीं है क्या? आरक्षण के लिए तो बहुत हड़तालें होती है] कभी किसी ने कहा जातिवाद को खत्म करो] सब राजनीति है।

धनंजय कुकरेती % उत्तराखण्ड आंदोलनकारियों को जब गोलियों से भूना जा रहा था और मुलायम सिंह के गुंडे जब हमारी मां&बहनों की इज्जत से खेल रहे थे तब केंद्र में आपकी सरकार सो रही थी। और बाद में उसी मुलायम के साथ मिलकर कांग्रेस ने यूपी में सरकार भी बनाई थी।

 

एनपी रतूड़ी%  हरदा आपके राज में पुलिस के जिस द्घोड़े को आपने महिमामंडित किया था क्या उसकी टांग अस्तबल में टूटी या आपके इशारे पर प्रदर्शनकारियों को कुचलते समय टूटी थी। हरदा हमारे पहाड़ मे कहावत है अफू डूंड उरख्यलूंद खुट डलद हैक कू ब्वाद सी डूंड ऐगे याने अपनेआप लंगड़ा कटी टांग ओखली में डाल कर दूसरे को कहता है कि देखो लंगड़ा आ रहा है। 

कृष्ण पुरी % गुजरात में आज की रैली में गुजरात मॉडल पर एक बार भी नहीं बोले हमारे पीएम। खाली जनता की भावनाओं से खेलने के लिए रोने पर आ गए। अरे जब आपने २२ सालों में गुजरात में बेइंतहा विकास किया है। तो उसी पर जनता से वोट मांगिए। या गुजरात में जाते ही गुजरात मॉडल भूल हाफिज&चीन पाकिस्तान डोकलांम मॉडल याद आने लगे।

 

राजेश काला % हरीश रावत की जगह शायद हरीश पटेल बनने की सोच रहे हैं लेकिन नहीं बन पाओगे। जब तक मोदी&योगी है तब तक तुम टेंशन मत लो आलू उगाओ] सोना पाओ पपू से हल लगवाओ।

भूपेंद्र सिंह % रावत जी जब देश लूट रहा था] २जी ३ जी जीजा जी समेत कई ?kksVkys हो रहे थे तब आप नकली गांधियों की गुलामी क्यों कर रहे थे

रामदयाल गोदियाल % आपने कभी उत्तराखण्ड के बारे मे सोचा जो आपको गुजरात की इतनी चिंता सता रही है।

ईश्वर सिंह मनौला % आप भी समय पर उत्तराखण्ड भ्रमण कर लेते तो दो सीटों पर चुनाव नहीं हारते।

संजय चौहान % अच्छे दिनों की सौगात! बांध उत्तराखण्ड में बनेगा और पेड़ राजस्थान] तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश में लगाए जाने का प्रस्ताव है।

विमल ए मालासी % हुक्मरानों को क्या कहें साहब गधो के हुक्मरान गधे ही होते हैं। हम ही गधे हैं जो इन १७ सालों में ये नहीं समझ सके कि उत्तराखण्ड क्यों बनवाया था पुरखों ने लड़ झगड़ कर। पीपलकोटी में बन रही परियोजना के सापेक्ष वृक्षारोपण झांसी में हुआ है बल।

दिनेश कांदवाल % अब क्या बुन्न तब। टिहरी बांध के बाद टीएचडीसी भी तो मध्य प्रदेश और उड़ीसा में ही अपना सीएसआर फंड खर्च करती है उत्तराखण्ड से कोई लेना देना नहीं।

डीएस भंडारी %  टिहरी परियोजना के अंतर्गत भी पेड़ मिर्जापुर जनपद में लगे थे। उस समय राज्य भले ही एक था परंतु रोपित क्षेत्र बहुत दूर था] लेकिन वहां रोपित करने हेतु उस समय भी यही कारण बताए गए थे...। भले ही उसके बाद भी एवं तब से आज तक उत्तराखण्ड में प्रति वर्ष वृक्षारोपण हेतु करोड़ों रुपए का बजट आराम से उपयोग होता आ रहा है...! लेकिन अभी भी आपको उत्तराखण्ड की यात्रा में सूने पहाड़ ही नजर आएंगे!


जनाब ने फरमाया + + + 

सरकार विकास के दृष्टिगत हड़तालियों से सख्ती से निपटेगी। हड़ताल विकास में बाधक है और उत्तराखण्ड को हड़ताली राज्य नहीं बनने दिया जाएगा।

त्रिवेंद्र सिंह रावत] मुख्यमंत्री 

एनएच मुआवजा ?kksVkys की जांच हाई कोर्ट की देखरेख में कराई जानी चाहिए। मामले की जांच कर रही एसआइटी बड़े मगरमच्छों को बचाने में जुटी है।

हरीश रावत] पूर्व मुख्यमंत्री

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत बिना ठोस सबूत और तथ्यों के किसी पर भी आरोप लगाकर खुद को बेकसूर साबित करने की कोशिश कर रहे हैं] लेकिन जनता सब जानती है।

यशपाल आर्य] परिवहन मंत्री 

अगर पूर्व सीएम हरीश रावत के पास तीन मंत्रियों की भूमाफिया और खनन माफिया से सांठ&गांठ के सबूत हैं तो वे इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराएं। अगर वे ऐसा नहीं करवाते तो खुद ही दोषी माने जाएंगे।

अजय भट्ट] प्रदेश भाजपा अध्यक्ष

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 71%
uk & 15%
 
 
fiNyk vad

  • जीवन सिंह टनवाल

श्रीलंकाई टीम इन दिनों भारत दौरे पर है। श्रीलंकाई टीम यहां तीन टेस्ट] तीन वनडे और तीन टी२० मैचों की सीरीज खेलेगी। अब तक श्रीलंकाई टीम

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1948066
ckj