fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 26 16-12-2017
 
rktk [kcj  
 
खेल 
 
वन डे में नंबर वन

  • जीवन सिंह टनवाल

ऑस्ट्रेलिया को पांचवें वनडे में हराने के बाद भारत ने वनडे सीरीज चार एक से अपने नाम कर ली है। अब दोनों टीमों की नजरें टी२० सीरीज पर हैं। बीसीसीआई ने टी२० सीरीज के लिए भारतीय टीम की ?kks"k.kk की विराट कोहली की कप्तानी में पंद्रह सदस्यों की टीम की ?kks"k.kk की गई है। यह टीम सात अक्टूबर से तेरह अक्टूबर तक आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टी&२० के मुकाबले खेलेगी। टीम में तीन खिलाड़ियों की वापसी हुई है। कई दिग्गज खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता भी देखना पड़ा है। पांच मैचों की मौजूदा एकदिवसीय श्रृंखला में चार लगातार अर्धशतक लगाने वाले अजिंक्य रहाणे एक बार फिर टीम में जगह नहीं बना पाए हैं। अपनी पत्नी का इलाज करवा रहे शिखर धवन की एक बार फिर टीम में वापसी हुई है। धवन के साथ साथ टीम से अंदर&बाहर हो रहे दिनेश कार्तिक को एक बार फिर से टीम में शामिल किया गया है। रवींद्र जडेजा को आस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के शुरुआती तीन मैचों के प्लेइंग इलेवन में नहीं लिया गया। और अब टी&२० टीम से भी बाहर रखा गया है। उन्हें आस्ट्रेलिया के खिलाफ भी टीम से बाहर रखा गया था लेकिन अक्षर पटेल की चोट के कारण उनकी टीम में वापसी हुई। एक बार और वापसी करने को तैयार अनुभवी आशीष नेहरा अपनी काबिलियत पर संदेह और आलोचना करने वालों से तनिक भी परेशान नहीं हैं।

 

३८ वर्षीय नेहरा को तीन मैचों की टी&२० सीरीज लिए टीम में शामिल किया गया है। वह देश के लिए अंतिम बार साल के शुरू में इंग्लैंड के खिलाफ खेले थे। इंग्लैंड के खिलाफ खेलने के बाद आईपीएल के दौरान उन्हें चोट लग गई थी। वहीं सुरेश रैना और युवराज सिंह एक बार फिर टीम में अपनी जगह बनाने में नाकाम रहे हैं भारतीय टीम भले ही लगातार सीरीज जीत रही हो और पहली बार आस्ट्रेलिया को किसी वनडे सीरीज में चार एक से हरा दिया हो] लेकिन अभी उसे सर्वश्रेष्ठ टीम का तमगा नहीं दिया जा सकता] क्योंकि वह परफेक्ट नहीं हो पाई है। अभी उसे कई जगह काम करना बाकी है। भले ही विराट की टीम ने चेन्नई] कोलकाता] इंदौर और नागपुर में आस्ट्रेलिया को हराया] लेकिन बेंगलुरु में चौथे वनडे में मिली हार ने उसके सर्वश्रेष्ठ होने के दावे को ध्वस्त कर दिया। इस हार ने बता दिया कि उसे अभी अपनी बेंच स्ट्रेंथ पर और काम करना बाकी है जो विपरीत से विपरीत परिस्थितियों में भी जीत दिला सके। इसमें शक नहीं है कि सीरीज में कुलदीप&युजवेंद्र जैसे दो कलाई के  स्पिनरों] भुवनेश्वर&शमी जैसे दो बेहतरीन तेज गेंदबाजों और आलराउंडर हार्दिक पांड्या ने भारत को एक बेहतर संयोजन दिया जो जीत के असल कारण रहे] लेकिन जहां कुलदीप] भुवी और बुमराह को आराम दिया गया तो टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा। हाल में विराट के नेतृत्व में जो जीत हासिल हुई हैं उनमें से अधिकतर द्घरेलू मैदान में मिली। विदेश में भी जो जीत मिली वह श्रीलंका व वेस्टइंडीज के खिलाफ थी। इंग्लैंड में चौंपियंस ट्राफी के फाइनल में विपरीत परिस्थितियां सामने आते ही टीम बुरी तरह हार गई। अभी भारत को द्घर में ही आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टी&२० मैचों की सीरीज और इसके बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे और टी&२० सीरीज खेलनी हैं। हो सकता है टीम इंडिया उसमें भी जीत जाए] लेकिन अगले साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका दौरे में उसे जीत हासिल करने के लिए सर्वश्रेष्ठ टीम की जरूरत होगी। रोहित को भारत के पाटा पिचों की जगह अफ्रीकी तेज गेंदबाजी आक्रमण के सामने उनके द्घर में ही रन बनाने होंगे। अभी तक विराट और टीम प्रबंधन चौथे नंबर पर जबरदस्ती मनीष पांडे] पांड्या या राहुल को उतारने में जुटा है जो सही नहीं है। लगातार चार मैचों में अर्धशतक लगाने के बावजूद रहाणे को टी&२० सीरीज से बाहर कर दिया। भारतीय टीम को चौथे नंबर के लिए स्थायित्व लाना होगा। यही नहीं धौनी को सातवें नंबर पर अब इस्तेमाल करना बेकार है] क्योंकि अब उन्हें रन बनाने के लिए पहले कुछ गेंदों को खेलना होता है।

 

कुल मिलाकर अभी विराट को भविष्य की अंतिम एकादश तैयार करना बाकी है। उस एकादश में रहाणे] सुरेश रैना] राहुल] अश्विन] जडेजा और युवराज सिंह फिट होंगे या नहीं यह प्रबंधन को तुरंत तय कर लेना चाहिए और इन खिलाड़ियों को इस बारे में अवगत भी करा देना चाहिए। टीम इंडिया की यह सीरीज शानदार रही। और इस जीत के साथ भारत आईसीसी रैकिंग में नंबर एक की पायदान पर भी पहुंच गया है। वहीं वनडे करियर का चौदवां शतक लगाने वाले रोहित को उनकी मैच विजयी पारी के लिए मैन आफ द मैच पुरस्कार दिया गया। मैन आफ द सीरीज पुरस्कार युवा आलरांडर हार्दिक पांडया को मिला हार्दिक पांडया ने इस सीरीज में  मैन आफ द मैच पुरस्कार जीता था। अब भारत और आस्ट्रेलिया को तीन टी&२० मैचों की सीरीज खेलनी है।


मैरीकॉम&सरिता ने बनाई जगह

 

महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकाम ¼४८ किलोग्राम वर्ग½ और ए सरिता देवी ¼६४ किलोग्राम½ अगले महीने होने वाली एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने में कामयाब रही हैं। तीन दिनों तक हुए ट्रायल में भार वर्ग बदल कर भी दोनों अनुभवी खिलाड़ी युवा मुक्केबाजों की चुनौती पार पाने में सफल रहीं। चीन के हो ची मिन्ह शहर में दो से ११ नवंबर तक ये मुकाबले होंगे। पांच बार की वर्ल्ड चैंपियन मैरीकाम एशियाई और ओलंपिक खेलों में ५१ किलोग्राम भार वार्ग को शामिल करने के बाद २०१० से इस वर्ग में खेल रही हैं। यह छठी बार है जब वह एशियाई चैंपियनशिप में भाग ले रही हैं। मैरीकाम ने ट्रायल में छह बाउट खेल सभी में जीत हासिल की। इस दौरान उन्होंने वर्ल्ड चौंपियनशिप में रजत पदक विजेता सरजूबाला देवी को भी हराया। ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली इस ३४ वर्षीय खिलाड़ी ने पिछले साल कहा था कि वह टूर्नामेंट के हिसाब से ४८ और ५१ किलोग्राम के भार वर्ग के बीच बदलाव करती रहेंगी। सरिता ने एशियाई चैंपियनशिप में चार गोल्ड सहित पांच मेडल अपने नाम किए है। हाल ही में वह पेशेवर बनी थी जहां उन्होंने अपना पहला बाउट जीता] लेकिन उन्होंने फिर से अमेच्योर मुक्केबाजी में वापसी की है और वह ६० की जगह ६४ किलोग्राम वर्ग में दावेदारी पेश करेंगी। इस साल सर्बिया में नेशन कप जीतने वाली हरियाणा की मुक्केबाज नीरज ¼५१ किलोग्राम½ एशियाई चैंपियनशिप में डेब्यू कर रही हैं। विश्व चौंपियनशिप की सिल्वर मेडल विजेता सोनिया लाथर ¼५७ किग्रा½ भी टीम में जगह बनाने में कामयाब रही हैं। एशियाई चौंपियनशिप की रजत पदक विजेता सावेती बोरा ¼८१ किग्रा½ भी इस साल अपने मेडल के रंग को बेहतर बनाने के लक्ष्य के साथ उतरेंगीं।


अब साल भर खेलेंगेी महिला खिलाड़ी

 

बीसीसीआई के पदाधिकारी रत्नाकर शेट्टी ने कहा है कि क्रिकेट बोर्ड वनडे और टी&२० टूर्नामेंट के फ्यूचर टूर प्रोग्राम ¼एफटीपी½ में महिलाओं को भी जोड़ने का प्लान बना रही है। उन्होंने कहा कि हाल ही में इंग्लैंड में हुए आईसीसी महिला विश्वकप में महिलाओं के शानदार प्रदर्शन के बाद आईपीएल शैली के फ्रैंचाइजी की डिमांड काफी बढ़ गई। वो चाहते हैं कि महिलाओं के लिए भी एक विशेष एफटीपी टूर हो। लिहाजा महिलाओं के लिए एफटीपी पर विचार किया जा रहा है। इसके अलावा उन्होंने सीनियर टीम के लिए इंटरनेशनल मैचों की संख्या में वृद्धि के अलावा बीसीसीआई ने अंडर&१६] अंडर&१९] और अंडर&२३ के स्तरों में विभिन्न क्षेत्रीय टूर्नामेंट करने का प्लान बनाया है। शेट्टी का यह भी कहना है कि इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया जैसे देश टेस्ट मैच में अब रुचि नहीं ले रहे हैं। उन्होंने कहा] अब हम इंटरनेशनल स्तर पर पुरुष टीम की तरह महिलाओं की टीम के लिए भी एक एफटीपी बनाने की योजना बना रहे हैं। अगले दो सालों में हम बेहतर टीम बनाएंगे और हमारी लड़कियों को उस स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने का मौका मिलेगा। यहां एक आम सवाल है कि महिलाओं के लिए पर्याप्त मैच नहीं हैं] तो यह समझने की बात है कि आईसीसी फोरम में मैंने भाग लिया] तो मैंने देखा कि इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया जैसे देश टेस्ट मैच खेलने के लिए उत्सुक नहीं हैं। प्रत्येक देश और आईसीसी महिलाओं के क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए तैयार है। साथ ही इस साल हमारे पास अंडर&१६ के लिए जोनल टूर्नामेंट है। अंडर&१९ और अंडर&२३ है] जहां वे वनडे खेलते हैं। इस साल वे टी&२० खेलेंगे। हमारे पास एक वरिष्ठ महिला टूर्नामेंट है] जहां हमारे पास वनडे मैच] तीन दिवसीय मैच और टी&२० होंगे। अंडर&१९ लड़कियां भी दो दिन का खेल खेलती हैं] इसलिए यह ऐसी संरचना है जिसे हमने बीसीसीआई के तहत महिला क्रिकेट के लिए तय किया है।  

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 71%
uk & 15%
 
 
fiNyk vad

दिनेश पंत

न्यायालय के आदेश पर अवैध खनन निरोधक सतर्कता ईकाई का गठन तो हुआ] लेकिन नदियों] जंगलों और गाड-गधेरों को बेतरतीबी से उजाड़ने का सिलसिला कभी रुका नहीं। अकेले

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1948137
ckj