fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 14 23-09-2017
 
rktk [kcj  
 
सरगोशियां
 
हवा में आतंक

उत्तराखण्ड राज्य के एक बड़े नौकरशाह अपने परिवार संग एक निजी कंपनी के हेलीकॉप्टर में सफर कर रहे थे। ये नौकरशाह वही हैं जिनकी तूती एक जमाने में राज्य में बोला करती थी। सरकार या सीएम कोई भी हो] ताकतवर समझे जाने वाले इन महाशय को लेकर एक चटखारेदार खबर इनके रिटायर होने के बाद सामने आई है। सूत्र विश्वस्त हैं। खबर के चश्मदीद हैं। हुआ यूं कि हेलीकॉप्टर में इन महाशय का अपनी पत्नी और बेटे से किसी बात में वाक्‌युद्ध शुरू हो गया। थोड़ी ही देर में यह झगड़ा इतना बढ़ा कि बड़े साहब ने पत्नी पर हाथ उठा डाला। फिर क्या था पत्नी ने भी पति की पिटाई शुरू कर दी। बेटा&मां के संग हो लिया। उसने भी पिता पर हाथ साफ करना शुरू कर दिया। हेलीकॉप्टर हवा में लड़खड़ाने लगा तो पायलट ने धमकी दी कि वह इमरजेंसी लैडिंग कर पूरे परिवार को उतार फेंकेगा। तब कहीं जाकर मामला फिर से वाक्‌युद्ध पर जा टिका। जानकारों की माने तो साहब पर बीबी और पत्नी खासे भारी पड़े। सुनते हैं साहब के गाल कई दिन तक सूजे रहे।

देशभक्ति में फर्क

पाकिस्तान को लेकर हर बात में गुर्राने वाले हमारे देशभक्त नेता और मीडिया के जांबाज चीन के मामले में खामोश हैं। एक तरफ तो चीन भूटान संग सीमा विवाद पर भारतीय सेना को धमका रहा है तो दूसरी तरफ वहां का मीडिया सिक्किम का विलय चीन में कर लेने की छूूट दे रहा है। आए दिन भारतीय सीमा के भीतर आ धमकाने की नीति चीन ने अपना ली है। इस सबके बावजूद पाकिस्तान के मसले पर टीवी स्क्रीन को युद्ध के मैदान में तब्दील कर देने वाले मीडिया के जांबाज और बड़बोल नेताओं ने चुप्पी साध रखी है। भारत की तरफ से केवल रक्षा मंत्री अरुण जेटली का कठोर बयान कि भारत १९६२ वाला नहीं है] सुनने को मिला। हर बात में पाकिस्तान को धूल धूसरित कर देने वाले इस विवाद से बचते दिख रहे हैं। ऐसा लगता है कि इन जांबाजों का सारा गुस्सा और सारी बहादुरी केवल पाकिस्तान के लिए रिजर्व है। चीन का जिक्र आते ही ये शूरवीर अपने बिलों में जा छुपते हैं।

फिर गहलोत पर दांव

राजस्थान में अगले बरस विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा&कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इसके लिए तैयारियां तेज कर दी हैं ^आप^ ने अपने वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास को राजस्थान की जिम्मेदारी दी है। भाजपा एक बार फिर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में मैदान में उतर रही है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपना सेनापति चुनने के लिए पिछले दिनों सर्वेक्षण कराया। जानकारों की मानें तो नतीजे स्वयं राहुल गांधी के लिए चौकाने वाले थे। पार्टी के ७१ प्रतिशत कार्यकर्ता पूर्व सीएम अशोक गहलोत को चेहरा बनाने के पक्ष में हैं। युवा नेता सचिन पायलट को मात्र २९ प्रतिशत ने अपना सपोर्ट दिया है। इस सर्वे में केवल दो ही नाम रखे गए थे। कभी पार्टी आलाकमान के खासमखास सीपी जोशी का इसमें नाम तक नहीं था। जाहिर है जोशी और उनके समर्थक इससे खफा भी हैं और मायूस भी। बहरहाल खबर यह भी है कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने इस सर्वे के बाद राहुल गांधी से मुलाकात कर अपना पक्ष रखा है। अब सभी के निगाहें राहुल पर हैं कि वे किस नेता के पक्ष में फैसला लेते हैं। जानकारों की मानें तो फिलहाल पलड़ा अशोक गहलोत का ही भारी है।

सिन्हा का संकट

राजस्थान में अगले बरस विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा&कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इसके लिए तैयारियां तेज कर दी हैं ^आप^ ने अपने वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास को राजस्थान की जिम्मेदारी दी है। भाजपा एक बार फिर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में मैदान में उतर रही है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपना सेनापति चुनने के लिए पिछले दिनों सर्वेक्षण कराया। जानकारों की मानें तो नतीजे स्वयं राहुल गांधी के लिए चौकाने वाले थे। पार्टी के ७१ प्रतिशत कार्यकर्ता पूर्व सीएम अशोक गहलोत को चेहरा बनाने के पक्ष में हैं। युवा नेता सचिन पायलट को मात्र २९ प्रतिशत ने अपना सपोर्ट दिया है। इस सर्वे में केवल दो ही नाम रखे गए थे। कभी पार्टी आलाकमान के खासमखास सीपी जोशी का इसमें नाम तक नहीं था। जाहिर है जोशी और उनके समर्थक इससे खफा भी हैं और मायूस भी। बहरहाल खबर यह भी है कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने इस सर्वे के बाद राहुल गांधी से मुलाकात कर अपना पक्ष रखा है। अब सभी के निगाहें राहुल पर हैं कि वे किस नेता के पक्ष में फैसला लेते हैं। जानकारों की मानें तो फिलहाल पलड़ा अशोक गहलोत का ही भारी है।

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 68%
uk & 14%
 
 
fiNyk vad

जब भी लोकसभा चुनाव होता है तब उसके बहुत पहले से ही विपक्षी एकता का शोर शुरू हो जाता है लेकिन अक्सर ही वह शोर एक सन्नाटे में तब्दील हो जाता है। इस बार क्या होगा सब कुछ धुंध में है। बिहार

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1827848
ckj