fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 49 28-05-2017
 
rktk [kcj  
 
सियासी चकल्लस 
 
बिन ^लालबत्ती^ सरकार

केंद्र सरकार ने सरकारी अमले में खास लोगों की गाड़ियों से लालबत्ती हटाने का ऐलान कर राजनेताओं के साथ&साथ मुख्यमंत्रियों के सामने एक परेशानी खड़ी कर दी है। ऐसा इसलिए कि पार्टी से जुड़े जिन प्रिय लोगों को मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल से जगह या कोई मलाईदार जगह नहीं मिल पाती थी उनको ^लालबत्ती^ देकर एडजेस्ट किया जाता था। उत्तराखण्ड में तो पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के शासनकाल से ही थोक के भाव में लालबत्ती बांटने की परंपरा रही है। प्रदेश में सिर्फ अपने प्रिय लोगों को ही नहीं] बल्कि पार्टी के अंदर विरोधी गुटों को मनाने के लिए भी लालबत्ती दी जाती रही है। तभी तो इस नए&नवेले एवं छोटे से पहाड़ी राज्य में सैकड़ों की संख्या में लालबत्ती बांटने का प्रचलन रहा है। लालबत्ती छिन जाने से राजनेताओं के रसूख में कुछ कमी तो आई है। मगर अब पार्टी के प्रमुख कार्यकर्ताओं के साथ&साथ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र भी थोड़े परेशान हैं कि अपनों को कैसे एडजस्ट किया जाए।


भाजपा विरोधी गठबंधन

 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा को मिली] प्रचंड जीत ने भाजपा विरोधी दलों को सकते में डाल दिया है। उन्हें दो साल बाद होने वाले लोकसभा चुनाव का भय अभी से सताने लगा है। भाजपा के विजयी रथ को रोकना दिन&ब&दिन मुश्किल से नामुकिन होता जा रहा है। भय कई&बार एकता को जन्म देता है। भाजपा और मोदी से भयभीत दल अब आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा विरोधी महागठबंधन बनाने की दिशा में सक्रिय हैं। खास बात यह कि भाजपा विरोधी महागठबंधन की कोशिश बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तो कर रहे थे। अब बसपा प्रमुख मायावती ने भी इस दिशा में पहली बार सक्रियता दिखाई है। बिहार में लालू प्रसाद यादव पहले से ही भाजपा विरोधी गठबंधन बनाने की बात करते रहे हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव के बाद वे भी इस मसले पर सक्रिय हो गए हैं। वे भाजपा विरोध में किसी भी दल के साथ दोस्ती करने की तैयारी में हैं। भाजपा विरोधी दल अपनी असहमतियों को भुलाकर कैसे एकजुट हो पाते हैं] यह देखने वाली बात होगी।


बीजद में तोड़&फोड़

 

ऐसा लगता है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह अपने फुल फार्म में हैं। वे कांग्रेसमुक्त भारत के अभियान में तो जुटे ही हैं] बाकी दलों के भीतर भी तोड़&फोड़ कर रहे हैं। अभी हाल ही में बीजू जनता दल के सांसद तथागत सतपथी ने आरोप लगाया है कि भाजपा उनकी पार्टी को तोड़ने की कोशिश कर रही है। उनका यह भी आरोप है कि भाजपा बीजद का नाम] चुनाव चिह्न और ओडिशा में समयपूर्व चुनाव कराने में लगी है। बीजू कांग्रेस भाजपा का सहयोगी दल रहा है। कहीं ऐसा तो नहीं कांग्रेस में तोड़&फोड़ के बाद अब भाजपा के निशाने पर क्षेत्रीय दल आ गए हैं।

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 64%
uk & 13%
 
 
fiNyk vad

कांग्रेस आलाकमान इन दिनों अपने बड़े नेताओं के पार्टी छोड़ने की आशंका से भयभीत बताया जा रहा है। एक के बाद एक नेता का कांग्रेस को अलविदा कह भाजपा का दामन थाम लेना पार्टी सुप्रीमो सोनिया

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1638663
ckj