fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 14 23-09-2017
 
rktk [kcj  
 
आईना  
 
व्यवस्थाओं में बदलाव

श्री बदरीनाथ&केदारनाथ मंदिर समिति ने अगले माह से शुरू होने वाली यात्रा की व्यवस्थाओं में कई बदलाव किए हैं। समिति एवं प्रशासन यात्रा की तैयारियों में जुटे हुए हैं। इस बार श्रद्धालुओं को रिंगाल की टोकरी में प्रसाद के साथ तुलसी] चंदन और अंगवस्त्र के अलावा केसरी भोग और लक्ष्मीजी के लड्डू भी दिए जाएंगे। पूजा में भी कुछ बदलाव किए गए हैं। परिवार के साथ पूजा करने की दर को महंगा कर दिया गया है। मंदिर समिति ने पुरानी पैकेजिंग व्यवस्था समाप्त कर प्रति व्यक्ति विशेष पूजा के टिकट लागू करने का निर्णय लिया है। हाईकोर्ट की प्लास्टिक और पॉलीथिन पर रोक के बाद मंदिर समिति ने रिंगाल की टोकरियों में प्रसाद परोसने का निर्णय लिया है। प्रथम चरण में रिंगाल की टोकरियों में वीआइपी प्रसाद परोसा जाएगा। समिति ने व्यापारियों से भी रिंगाल की टोकरियों में ही प्रसाद बेचने की अपील की है। ताकि इससे स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध होने के साथ पॉलीथिन पर शत&प्रतिशत प्रतिबंध भी संभव होगा। समिति ने विशेष पूजाओं की दर ?kVk दी है] लेकिन यदि परिवार के साथ आप विशेष पूजाएं करते हैं तो इसके लिए पहले से अधिक धनराशि चुकानी पड़ेगी। समिति के सीईओ बीडी सिंह ने बताया कि नई व्यवस्था से यात्रियों और मंदिर समिति दोनों को लाभ होगा।


उत्तरकाशी पहला भूकंपरोधी मॉडल

 

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के संयुक्त सचिव अनिल कुमार संद्घी ने उत्तरकाशी में जिला स्तर के सभी अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में प्राधिकरण ने जिले को भूकंपरोधी मॉडल बनाने के लिए चिह्नित किया। भूकंपरोधी मॉडल जनपद के रूप में चिंह्वित होने वाला उत्तरकाशी देश का पहला जिला बन गया। इस दौरान संद्घी ने कहा कि जिले के सभी सरकारी भवन भूकंपरोधी तकनीकी से बनने चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकारी भवन] पुल] अस्पताल] आंगनबाड़ी भवन] स्कूल आदि को इसमें शामिल किया गया है। संद्घी ने बताया कि उत्तरकाशी भूकंप की दृष्टि से अति संवेदनशील है। इसलिए इस जनपद का चयन किया गया है। मॉडल जनपद बनाने के लिए यहां सभी सरकारी निर्माण कार्य भूकंपरोधी किए जाने हैं। पुराने सरकारी भवनों की भूकंपरोधी तकनीकी से मरम्मत की जाएगी। इस प्रोजेक्ट के तहत देश के ५० शहरों को भी भूकंपरोधी मॉडल शहर बनाना है। इसके साथ ही केंद्र से आई टीम ने भवन शैली] भूकंपरोधी संसाधनों का निरीक्षण किया। तीन साल के अंतराल में यह योजना धरातल में उतारनी है। इस मौके पर जिलाधिकारी डॉ आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि इस प्रोग्राम के कार्य जनपद के भटवाड़ी ब्लॉक से शुरू किए जाएंगे। आंगनबाड़ी से लेकर जितने भी सरकारी भवन बने उनका निर्माण भूकंप तकनीकी से किया जाए।


मानसरोवर यात्रा पर बैठक

 

पिथौरागढ़ जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कैलाश मानसरोवर यात्रा की तैयारियों पर अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में यात्रा का संचालन करने वाले कुमाऊं मंडल विकास निगम को १५ मई तक सभी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिए गए। इसके बाद जिलाधिकारी स्वयं तैयारियों का जायजा लेने अंतिम पड़ाव तक जाएंगे। इस साल मानसरोवर यात्रा आठ जून से आठ सितंबर तक चलेगी। १०८० यात्री १०८ दलों में जाएंगे। पहला दल १२ जून को दिल्ली से चलेगा। कैलाश मानसरोवर यात्रा दल दिल्ली से काठगोदाम होते हुए अल्मोड़ा पहुंचेंगे। दूसरे दिन चौकोड़ी डीडीहाट होते हुए धारचूला पहुंचेंगे। धारचूला से ५४ किमी दूर नारायण आश्रम तक वाहन से जाने के बाद पैदल यात्रा शुरू होगी। पहला पैदल पड़ाव सिर्खा] दूसरा पड़ाव गाला] तीसरा पड़ाव बूंदी] चौथा पड़ाव गूंजी और अंतिम पड़ाव नाविढांग होगा। गूंजी में यात्री एक दिन विश्राम करेंगे। जहां पर यात्रियों का स्वास्थ्य परीक्षण होगा। इसमें सफल यात्री आगे की यात्रा कर पाएंगे। इस वर्ष हर पड़ाव में शिकायत पंजिका रहेगी। इसमें यात्री शिकायत और सुझाव दर्ज करेंगे। यात्रा दल के साथ सुरक्षा कर्मी चिकित्सा टीम वायरलेस टीम और आईटीबीपी जवान रहेंगे। १०००० फिट की ऊंचाई गूंजी में पुलिस थाना और बूंदी में पुलिस चौकी खुलेगी। यात्रा मार्ग में आपदा से निबटने के लिए तीन स्थानों धारचूला] पांगला और बूंदी में एसडीआरएफ की टीम तैनात रहेगी।


Yogi Adityanath @myogiadityanath

लालबत्ती हटाने के केंद्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले का हम स्वागत करते हैं। हर भारतीय वीआईपी हैं। लक्ष्य अंत्योदय प्रण अंत्योदय पथ अंत्योदय।

 

Poonam Singh @PoonamRathore25

लालबत्ती हटाने के ऐतिहासिक फैसले का हम स्वागत करते हैं। सर!

 

Santosh Kumar @Santosh18887673

सर जी जैसा कि आपने कहा हर भारतीय वीआईपी है] यही सोच आपको वीवीआईपी का दर्जा प्रदान करती है। जय हिंद!

 

Manoj Dubey @dubey_zee

वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए लालबत्ती बंद कर दी है। क्या अब भेदभाव की कलचर आरक्षण को भी समाप्त करेंगे।

 

Gyan G @Gyantiwarijnp

वीआईपी सभ्यता का अंत सही कदम है] परंतु आमजन की तरह सांसदों] विधायकों और राज्यपालों की सैलरी से इनकम टैक्स भुगतान की अनिवार्यता होनी चाहिए।


Trivendra S Rawat @tsrawatbjp

स्वच्छ भारत अभियान को हमारी उत्तराखण्ड सरकार ने पहले दिन से ही प्राथमिकता दी है] प्रदेश को स्वच्छ रखना हम सभी नागरिकों का कर्तव्य है।

 

 

ANOOP PANDEY @pandeyanoopekta

सर] वाह्य स्वच्छता के साथ&साथ शासन&प्रशासन को भी भ्रष्ट अधिकारियों रूपी गंदगी से मुक्त करने की सख्त जरूरत है।

 

Arjun Singh Satkari @ArjunSatkari

स्वच्छता के साथ ही उत्तराखण्ड सरकार को पेड़ लगाने पर भी ध्यान देना होगा--- उत्तराखण्ड की अमूल्य संपत्ति हमारे जंगल हैं---

 

दीप पांडेय @Deepc85  

इसीलिए लोग गांव स्वच्छ कर शहरों की ओर भाग रहे हैं।

 


जनाब ने फरमाया---

 

उत्तराखण्ड में शराब की दुकानें सिर्फ छह द्घंटे ही खुलेंगी। यह दोपहर तीन से रात नौ बजे तक का समय होगा। अवैध शराब के खिलाफ नियम सख्त होंगे।

त्रिवेंद्र सिंह रावत] मुख्घ्यमंत्री

 

लड़की की भूख से मौत शर्मनाक और हृदय विदारक है। सरकार की लापरवाही के चलते एक जिंदगी असमय हार गई।

हरीश रावत] पूर्व मुख्यमंत्री

 

लड़की की भुखमरी से मौत हुई है। जल्द मदद नहीं मिली तो और मौतें हो सकती हैं। 

महेश नेगी] विधायक द्वाराहाट

 

राज्य में लोग बेहतर शिक्षा] स्वास्थ्य के लिए तरस रहे हैं। एक माह के भीतर शिक्षकों&चिकित्सकों की कमी दूर कर ली जाएगी।

डॉ- धन सिंह रावत] प्रभारी मंत्री

 

फिल्म विकास बोर्ड का पुनर्गठन करें मुख्यमंत्री रावत। इसका उनको अधिकार है। मैं उनके साथ हूं।

हेमंत पाण्डे] उपाध्यक्ष उत्तराखण्ड फिल्म विकास बोर्ड


फेसबुक

भरत रावत %

बेहद शर्मनाक ?kVuk उत्तराखण्ड में एक के बाद एक भुखमरी से मौत होना ऐसी ?kVuk है जिसकी जितनी निंदा की जाए उतनी कम है। इस प्रकार की ?kVuk से अंत्योदय एवं मनरेगा जैसी योजनाओं की पोल खुल गई है और साथ ही साथ यह प्रश्न भी उठता है कि भाजपा के ५ सांसद @ बहुमत की #टीएसआर सरकार और केंद्र में बैठी भाजपा सरकार क्यों आंखें मूंद कर सिर्फ तमाशा ही देखती रही---

 

देवेंद्र बिष्ट %

उत्तराखण्ड में भूख से मौत बहुत ही दुखद और बड़ा सोचनीय प्रश्न है।

 

भुवन गोस्वामी %

उत्तराखण्डी लोगों ने सोचा भाजपा आएगी विकास होगा] पर उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्रीजी कहां गायब हैं कुछ पता ही नहीं है। एक तरफ यूपी के योगीजी हैं जो हर अपने एजेंडे में कही गई बातों को पूरा कर रहे हैं] वही उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री का पता ही नहीं है। जब मुखिया ही कोई कदम ना उठाए तो विधायक क्या करेंगे शर्म आती है। लेकिन जब उत्तराखण्ड जैसे छोटे राज्य में ऐसी ?kVuk ?kV रही हो। मेरा किसी भी पार्टी से कोई मतलब नहीं और जो मीडिया ये खबर दे सकता है वो दो वक्त की रोटी भी दे के आ सकता था] पर नहीं सब को अपनी&अपनी जरूरत है। आज वो वक्त है कि अपनी हेल्प खुद ही करनी होती है।

 

मोहित डिमरी %

वाकई यह ?kVuk उत्तराखण्ड के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। उत्तराखण्ड के इतिहास में शायद यह पहली ?kVuk होगी जब कोई भूख से मर गया हो। उत्तराखण्ड सरकार शर्म करो] शर्म करो।

 

दीपू कुमार %

उत्तराखण्ड में कोई भी सरकार आए] कुछ नहीं होगा--- नेताओं को अपना पेट भरना है] बस और कुछ नहीं।

 

योगेश जोशी %

त्रिवेंद्र और मोदी के लिए कलंक।

 

बिशन सिंह हरियाला %

मुख्यमंत्रीजी को राशन कार्ड व उनके युजरौ की जांच करनी चाहिए। सच्चाई सामने आएगी भूख से क्यों मर रहे हैं। गांव में कौन खास रहे हैं। गरीबों का राशन] राशन कार्ड समाप्त कर सबको समान राशन मिलना चाहिए। राशन की जांच हो] आधार से राशन मिले] शिकायत के लिए एक नंबर हो] सरकार को सख्त कदम उठाना पडेग़ा। ये भूखमरी त्रिवेंद्र रावत सरकार के लिए ?kkrd सिद्द होगी। सरकार नई है बस तुरंत जांच हो।

 

रूपेश कुमार सिंह %

दुःखद! इससे पहले रूद्रपुर में एक महिला भूख से मर चुकी है।

 

बेनु बबली तिवारी %

दाज्यू ये सब बहस फेसबुक तक रह जाती है] हल शिफर निकलता है। आपके जिस खिलाड़ी के लिए भाजपा ने हाय&तौबा मचाई उसी को चुनाव प्रचार के लिए लगा दिया। अब ये ?kVuk को भी भुला देंगे। जो अपने काम का है वो याद रखो।

 

नागेंद्र प्रसाद %

नेता तो किसी के नहीं होते और न सरकार। पर उस गांव के लोगों का दिल पत्थर का था जो उस मासूम को २ टाइम की रोटी न दे सके। सरकार अगर मदद भी देगी तो उसे पहुंचने में २ महीने लग ही जाएगा] पर जिनका सबसे पहले फर्ज था मदद करने का उन्होंने इंसानियत नहीं निभाई।

 

 

शोभना रावत स्वामी %

उत्तराखण्ड में ही नहीं] बल्कि पूरे भारत में आज भूख से कोई नहीं मर सकता। या तो किसी बीमारी से या फिर अपने आलस्य के कारण ही मर सकता है। ऐसा मेरा मत है।


 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 68%
uk & 14%
 
 
fiNyk vad

  • संजय चौहान

महज १३ बरस उम्र में उन्होंने अपने हैरतंगेज कारनामों से देश-दुनिया को अचंभित कर दिया। आज वह युवाओं के लिए एक आइकॉन हैं। जिद और जज्बा ऐसा कि

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1827736
ckj