fnYyh uks,Mk nsgjknwu ls izdkf'kr
चौदह o"kksZa ls izdkf'kr jk"Vªh; lkIrkfgd lekpkj i=
vad 26 16-12-2017
 
rktk [kcj  
 
खेल 
 
भारतीय टीम के नए प्रायोजक

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने ये जानकारी दी कि बीसीसीआई खुशी से ?kks"k.kk करता है कि ओप्पो मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड अब भारतीय टीम का नया स्पॉन्सर होगा। मोबाइल उत्पादक कंपनी ओप्पो का बोर्ड के साथ करार अप्रैल २०१७ से शुरू होगा। जो पांच वर्ष तक साथ चलेगा। ओप्पो मोबाइल बतौर टीम स्पॉन्सर स्टार इंडिया की जगह लेगा जिन्होंने खेल में अस्पष्टता के चलते और नीलामी से अपना नाम वापस ले लिया था। स्टार के साथ करार २०१३ दिसंबर में शुरू हुआ था। जो इस साल मार्च में समाप्त हो रहा है। ओप्पो मोबाइल कंपनी अब भारतीय क्रिकेट टीम की नई प्रायोजक होगी। ओप्पो की बीसीसीआई के साथ यह साझेदारी इस साल अप्रैल से शुरू होगी और पांच साल तक कायम रहेगी। बीसीसीआई के प्रायोजकों में स्टार इंडिया के अलावा सहारा कंपनी भी रह चुकी है। स्टार इंडिया से पहले सहारा कंपनी भारतीय टीम की प्रायोजक थी।

खिलाड़ियों को वीजा से इंकार

तिब्बती महिला फुटबॉल खिलाड़ियों का दावा है कि अमेरिका के टेक्सास में होने वाले एक टूर्नामेंट के लिए वीजा देने से उन्हें मना कर दिया। खिलाड़ियों के अनुसार उन्हें बताया गया कि अमेरिका आने के लिए उनके पास कोई बेहतर कारण नहीं है। अधिकतर खिलाड़ी भारत में रह रही तिब्बती शरणार्थी हैं। वीजा के लिए दिल्ली में स्थित अमेरिकी दूतावास में उन्होंने आवेदन किया था। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड टं्रप ने जिन सात देशों के नागरिकों की यात्रा पर प्रतिबंध लगाया है। उस सूची में न तो भारत और न ही चीन का नाम है। तिब्बत वुमंस सॉकर की कार्यकारी निवेदक केसी चाइल्डर्स का कहना है कि २४ फरवरी को १६ खिलाड़ियों को लेकर वो साक्षात्कार के लिए दूतावास गईं थी। उन्होंने बताया कि मैं इस बात से नाराज हूं क्योंकि यह किसी भी खिलाड़ी के लिए बहुत महत्वपूर्ण पल होता है। चाइल्डर्स खुद एक अमेरकिी नागरिक है। उन्होंने कहा कि मैं शर्मिदा हूं कि उनके देश ने महिला फुटबॉल टीम को वीजा देने से मना कर दिया। हालांकि उनका मानना है कि इस इनकार का संबंध ट्रम के प्रशासन से नहीं है। मुझे इस बात का पहले से डर था। क्योंकि तिब्बती अमेरीकी वीजा के लिए कोशिश करते हैं। जबकि अधिकारियों को डर रहता है कि वे शरण के लिए भी आवेदन करेंगे। इस टीम की अधिकांश खिलाड़ियों के पास भारतीय पहचान पत्र है। ये पहचान पत्र भारत सरकार तिब्बती शरणार्थियों को जारी करती है। यही सर्टिफिकेट उनके लिए पासपोर्ट की तरह काम करता है। इस टीम के दो सदस्यों के पास भारतीय पासपोर्ट है। और चार खिलाड़ी नेपाल में रहते हैं और नेपाली नागरिक हैं। उनके भी वीजा आवेदन पर कोई सुनवाई नहीं हुई। 

एक&एक की बराबरी

  • जीवन सिंह टनवाल

भारत&ऑस्टे्रलिया के बीच चल रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज में पहला मैच भारत हार गया था। इस सरीरीज में ऑस्टे्रलिया से दूसरा मैच जीत कर भारत ने सीरीज एक&एक से बराबर कर ली है

भारत&ऑस्टे्रलिया के बीच दूसरे टेस्ट मैंच में भारत ने ऑस्टे्रलिया को ७५ रनों से हराकर सीरीज में एक&एक की बराबरी कर ली है। चार मैचों की सीरीज में दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन भारत ने मात्र १८९ रन ही बनाए। भारत की ओर से केएल राहुल ने सर्वाधिक ९१ रनों का योगदान दिया। जबाब में ऑस्टे्रलिया ने पहली पारी में २७६ रनों के साथ भारत पर ८७ रनों की बढ़त हासिल की थी। भारत की दूसरी पारी में ओपनर लोकेश राहुल ने ५१ रनों की पारी खेली साथ ही चेतेश्वर पुजारा और रहाणे के बीच महत्वपूर्ण ११८ रनों की साझेदारी के साथ पुजारा अपना शतक बनाने से चूक गए। उनका साथ दे रहे रहाणे ने भी शानदार ५२ रनों की अर्द्धशतकीय पारी खेली और भारत के स्कोर को दो सौ रनों का आंकड़ा पार कराया। इसके बाद चौथे दिन भारत की पारी २७४ रनों पर सिमट गई। १८८ रनों का लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्टे्रलियाई टीम को पहला झटका ईशांत शर्मा ने दिया तो साथ में आर अश्विन के फिरकी के सामने ऑस्टे्रलिया के बल्लेबाज द्घुटने टेकते नजर आए। अश्विन ने दूसरी पारी में छह विकेट लिए। चाय के बाद मैदान में उतरी ऑस्टे्रलियाई टीम ज्यादा देर तक नहीं टिक पाई और ११२ रनों पर ऑल आउट हो गई। इस तरह भारत ने ये मुकाबला ७५ रनों से जीत लिया। इस जीत के लिए केएल राहुल को मैन ऑफ द मैंच चुना गया। भारत इस जीत के साथ आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक स्थान पर बरकरार है। एक अप्रैल तक नंबर एक के स्थान को बरकरार रखने पर भारतीय टीम दस लाख डालर की ईनामी राशि प्राप्त करेगी।

ऑस्टे्रलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट में भारत की जीत के बाद आईसीसी ने पुष्टि की कि ऑस्टे्रलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट में जीत से भारत का एक नंबर के स्थान और दस लाख डॉलर का नकद पुरस्कार सुनिश्चित है। भारतीय क्रिकेट के कप्तान विराट कोहली ने सीरीज में एक&एक की बराबरी करने के बाद कहा कि हमने यह साबित किया कि हम किस मिट्टी के बने हैं। 

भारत&ऑस्टे्रलिया के बीच टेस्ट सरीरीज का तीसरा मैच रांची में होगा। भारतीय टीम उस मैच में भी जीत को बरकरार रखना चाहेगी। बंगलुरु टेस्ट में भारत के हाथों मिली हार के बाद ऑस्टे्रलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ ने कहा कि मैंच के तीसरे दिन रहाणे और पुजारा के बीच हुई शतकीय साझेदारी ने उनकी टीम को मैंच से बाहर कर दिया। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा के विरोधी ऑस्टे्रलियाई कप्तान स्टीवन स्थिम को देखकर आजीबोगरीब मुंह बनाने का मामला चर्चा का विषय बना। विरोट कोहली और स्मिथ के बीच शब्दों की जंग देखने को मिली।

डीआरएस का सही इस्तेमाल करने में पिछड़ रहे भारतीय कप्तान विरोट कोहली ने बंगलुरु टेस्ट जीतने के बाद इसका खुलासा करते हुए कहा कि ऑस्टे्रलियाई कप्तान आउट होने के बाद डीआरएस लेने के लिए डे्रसिंग रूम में बैठे स्पोर्ट स्टाफ से इशारों में पूछ रहे थे कि डीआरएस लेना है कि नहीं। विराट ने कहा जब वो मुडे़ तो अंपायर को समझ में आ गया कि क्या चल रहा है। हमने भी इस बात को नोटिस किया या मैंच रेफरी और अंपार को इसकी जानकारी दी। ऑस्टे्रलियाई टीम ये पिछले तीन दिनों से कर रही है और उन्हें ये सब करने से रोकना जरूरी था।

मैंच समाप्ति के बाद एक रिपोटर ने चीटिंग शब्द का इस्तेमाल किया तो कोहली ने तुरंत मुंहतोड़ जवाब देते हुए कहा कि ये मैं नहीं आप कर रहे हैं। कोहली के अनुसार पहले भी उन्होंने ऑस्टे्रलियाई खिलाड़ियों को ऐसा करते देखा था। विराट ने कहा जब मैं बल्लेबाजी कर रहा था तब भी मैंने ऑस्टे्रलियाई खिलाड़ियों को दो बार ऐसे करते देखा। मैंने अंपायरों को कहा और इसी वजह से अंपायर स्थिम के आउट होने के बाद स्मिथ ने कोहली के साथ हुई स्लेजिंग पर चुप्पी नहीं तोड़ी और कहा मैं और विराट बातें कर रहे थे। इसमें ज्यादा कुछ देखने की जरूरत नहीं है। हम मजाक कर रहे थे। इसे दोस्ताना लड़ाई कही जा सकती है जो क्रिकेट में होती रहता है।

स्मिथ ने मैंच के बाद अपनी गलती मानी और दबी हुई जुबान से कहा कि वे ब्रेन फेंड का शिकार हो गए। गेंदे पैड पर लगी मैंने पीटर की तरफ देखा तो उसने कहा दूसरी तरफ देखों जब मैं मुड़ा तो ब्रेन फेड हो गया। मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था। कोहली ने स्मिथ की सफाई को खारिज करते हुए कहा कि कोई बल्लेबाजी करते हुए गलती करता है तो मेरे लिए ब्रेन फेड होगा। जैसे पुणे टेस्ट में मेरे साथ हुआ था और मैं आउट हो गया। लेकिन जो तीन दिन से चल रहा हो उसे ब्रेन फंड नहीं कहेंगे।

 
         
 
ges tkus | vkids lq>ko | lEidZ djsa | foKkiu
 
fn laMs iksLV fo'ks"k
 
 
fiNyk vad pquss
o"kZ  
 
 
 
vkidk er

क्या मुख्यमंत्री हरीश रावत के सचिव के स्टिंग आॅपरेशन की खबर से कांग्रेस की छवि प्रभावित हुई है?

gkW uk
 
 
vc rd er ifj.kke
gkW & 71%
uk & 15%
 
 
fiNyk vad

  • अपूर्व जोशी

^दि हिंदू^ के २६ नवंबर का अंक एक विशेष आलेख लिए था जिसने मुझे एक ग्रामीण महिला के la\k"kZऔर उसके प्रति जनआस्था से परिचय कराया। सोनी सोरी आज छत्तीसगढ़

foLrkkj ls
 
 
vkidh jkf'k
foLrkkj ls
 
 
U;wtysVj
Enter your Email Address
 
 
osclkbV ns[kh xbZ
1948111
ckj